एक माह में 1419 लोगों को बांटे 50 करोड़ के ऋण : डीसी

क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम में लाभार्थियों को मौके पर ही दिए स्वीकृति पत्र

हमीरपुर 08 जून। आम लोगों और उद्यमियों को विभिन्न बैंकों की ऋण योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए जिला अग्रणी बैंक पंजाब नेशनल बैंक ने आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विभिन्न बैंकों के सहयोग से बुधवार को यहां टाउन हॉल में के्रडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता उपायुक्त देबश्वेता बनिक ने की। इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित उद्यमियों तथा आम लोगों को संबोधित करते हुए देबश्वेता बनिक ने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत इस वर्ष एक मई के बाद हमीरपुर जिले के 1419 लोगों को विभिन्न बैंकों के माध्यम से लगभग 50 करोड़ 28 करोड़ रुपये के ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए हैं।
इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि आम लोगों तक बैंकिंग योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए सभी बैंक अधिकारियों को इन योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करना चाहिए। विशेषकर, युवाओं को अपना उद्यम लगाने हेतु बैंकों से ऋण लेने के लिए प्रेरित करना चाहिए। उपायुक्त ने कहा कि बैंक अधिकारी युवाओं को उदारता से ऋण प्रदान करें, ताकि वे स्वरोजगार के साधन विकसित कर सकें। इससे वे अपना उद्यम लगाने में सक्षम होंगे तथा अन्य लोगों को भी रोजगार दे सकेंगे। उपायुक्त ने बैंक अधिकारियों से कहा कि वे मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना और सरकार की अन्य महात्वाकांक्षी योजनाओं से संबंधित ऋणों के मामलों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाएं। इनमें अनावश्यक विलंब नहीं होना चाहिए।
उपायुक्त ने बताया कि ऋण योजनाओं के अलावा प्रदेश सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं को भी बैंकों के माध्यम से लागू किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत जिला में 99 वित्तीय साक्षरता शिविर लगाए गए हैं। इसके अलावा 2123 लोगों को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, 1161 लोगों को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और 293 लोगों को अटल पेंशन योजना से जोड़ा गया है। इस अवसर पर उपायुक्त ने जिला में कार्यरत विभिन्न सरकारी और गैर सरकारी बैंकों के पांच-पांच लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति पत्र भी बांटे। कार्यक्रम के दौरान प्राप्त 56 आवेदकों को मौके पर ही ऋण मंजूर कर दिए गए।
इससे पहले जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक संतोष कुमार सिन्हा ने जिला में आजादी का अमृत का महोत्सव के तहत आयोजित किए गए कार्यक्रमों की जानकारी दी। उन्होंने सभी बैंकिंग योजनाओं से संबंधित विस्तृत जानकारी एवं ब्यौरा भी प्रस्तुत किया। जबकि, जिला अग्रणी बैंक अधिकारी अजय कुमार कतना ने मुख्य अतिथि और अन्य अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न बैंकों और विभागों ने प्रदर्शनी स्टॉल लगाए।
इस अवसर पर पंजाब नेशनल बैंक के सर्कल प्रमुख अनिल कुमार मित्तल, भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य प्रबंधक राजेश कुमार वशिष्ठ, हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक के मुख्य प्रबंधक वीरेंद्र चौहान, अन्य बैंकों के अधिकारी, उद्यमी और अन्य लोग भी उपस्थित थे।