भारतवर्ष में मीडिया को एक अलग नजरों से जाना जाता है, संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर द्वारा जब संविधान को बनाया गया तो उसमे मीडिया के लिए एक अलग स्थान बना लेकिन आजकल के दौर में रिपोर्टर की पहचान ना मात्र रह गई है। इसी कड़ी में आज हम आपको लिए चलते हैं हिमाचल प्रदेश के

बिलासपुर जिला में जहां एक रिपोर्टर जो अपनी पूरी मेहनत लगन और निष्ठा के साथ लोगों की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाने में लगा हुआ है, और लगातार अपनी कोशिश जारी रख रहा है। उसके साथ एक ऐसी घटना पिछले कल घड़ी जिससे प्रजातंत्र पर सवाल उठ खड़े हुए हैं।

मीडिया का माध्यम लोकतंत्र का चौथा स्तंभ होता है और अगर इसी चौथे स्तंभ को आप गिरा दें तो देश को खड़ा रख पाना या लोकतंत्र को खड़ा रख पाना ना के बराबर है , इसी कड़ी में एसएम न्यूज़ हिमाचल के एक रिपोर्टर अवधेश भारद्वाज जो कि बिलासपुर जिला के बर्माना उपमंडल में अपनी सेवाएं दे रहा है।

और लोगों की समस्याओं को जगजाहिर कर रहा है उसके साथ एसीसी प्रबंधन के के कर्मचारी सत्यवीर जोकि एसीसी प्लांट बरमाना गागल का सिक्योरिटी हैंड है। उसने अवधेश भारद्वाज को फोन करके मिलने के लिए बुलाया उसके बाद अवधेश भारद्वाज ने उसकी बात का जवाब देते हुए कहा कि मैं 10 मिनट में बरमाना

पहुंचने वाला हूं। तो सत्यवीर उसे ट्राफिक पुलिस के चौक आने की बात कही उसके बाद अबदेश और उसका साथी दोनों सत्यवीर से मिलने ट्रैफिक पुलिस चौक पर पहुंचे।

और जब अवधेश भारद्वाज ने कंपनी के अंदर जाने की कोशिश की तो सिक्योरिटी ने उसे पकड़ लिया और सत्यवीर ने उससे माइक आईडी और मोबाइल छीन कर उस पर झपट पड़े जिसकी शिकायत अवधेश भारद्वाज ने संबंधित थाना प्रभारी को दे दी है।

इस संदर्भ में बरमाना थाना प्रभारी ने मामले की पुष्टि कर बताया कि मामला धारा 451 504 506 आईपीसी व 427 आईपीसी के तहत दर्ज किया गया है और आगामी कार्यवाही शुरू कर दी है।

Leave a Reply