बुधवार को अनिल शर्मा मंडी में भाजपा की आभार रैली में बिन बुलाए मेहमान की तरह पहुंच गए. मंच पर पहुंचे अनिल शर्मा को जब बैठने के लिए कहीं जगह नहीं मिली तो फिर उन्हें घर लौटना पड़ा, लेकिन इससे पहले, उन्होंने पुलघराट के पास सीएम जयराम ठाकुर का स्वागत किया. खुद अनिल शर्मा ने बताया कि वह भाजपा की रैली में गए थे, लेकिन मंच पर जगह नहीं मिलने के कारण घर लौट आए.

अनिल शर्मा ने कहा कि स्थानीय विधायक होने के नाते वह सीएम का स्वागत करने के लिए गए थे. अभी वह भाजपा के विधायक हैं और यह सरकार व संगठन को ही तय करना है कि उनके बारे में क्या निर्णय लेना है, लेकिन अभी वह पार्टी के विधायक हैं और इसी नाते वह पार्टी के कार्यक्रम में गए थे.

सीएम जयराम ठाकुर ने भी बताया कि अनिल शर्मा और उनकी छोटी सी मुलाकात हुई है, लेकिन इस मुलाकात में कोई बात नहीं हुई है. दोनों ने हाथ जोड़कर एक दूसरे का अभिवादन किया. सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि अभी अनिल शर्मा भाजपा के विधायक हैं और उस नाते ही वह पार्टी के कार्यक्रम में आए होंगे. उन्होंने कहा कि अगर चुनाव में उन्होंने पार्टी के लिए काम किया होता तो आज परिस्थितियां विपरित होती. जयराम ठाकुर ने कहा कि अनिल शर्मा के बारे में क्या निर्णय लेना है, यह भविष्य में तय किया जाएगा.

अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा ने मंडी सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा. इस कारण ही अनिल शर्मा की सरकार के साथ अनबन हो गई और उन्हें मंत्रीपद से इस्तीफा देना पड़ा. हालांकि, अभी तक वह भाजपा के विधायक हैं जबकि पार्टी की तरफ से उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. गौरतलब है कि आश्रय को मंडी से करारी हार झेलनी पड़ी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here