मनरेगा मजदूरों को 350 रु दिहाड़ी देने की मुख्यमंत्री से गुहार।

सभी तहसीलों से माँगपत्र के बाद मानसून सत्र के दौरान खण्ड स्तर पर होगा प्रदर्शन—
टिहरा मण्डी) —-
मनरेगा मज़दूर यूनियन टिहरा तहसील कमेटी ने मजदूरों को 350 रु नियुन्तम मजदूरी देने के लिए आज नायब तहसीलदार टिहरा के माध्यम से मुख्यमंत्री को माँगपत्र भेजा।यूनियन के राज्य महासचिव व भूपेंद्र सिंह खण्ड अध्यक्ष करतार सिंह चौहान, रामचन्द ठाकुर, राकेश शर्मा, सुमन कुमारी, कंचनलता, इंदुवाला,दिप्पा देवी,रीना, बन्दना, विना, मीना, रंजना, रीता, भामा और आशा आदि के नेतृत्व में आज नायब तहसीलदार टिहरा के माध्यम से मुख्यमंत्री को माँगपत्र भेजा।जिसमें मांग की गई है कि मनरेगा मजदूरों को भी अन्य दिहड़ीदारो के बराबर 350 रु दिहाड़ी दी जाये।यूनियन पदाधिकारियों ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जयराम सरकार दो तरह के मज़दूरी के नियम लागू कर रही है जिसके चलते एक तरफ़ दिहड़ीदारों को 350 रु दिए जाते हैं तो वहीं प्रदेश के 27 लाख मनरेगा मज़दूरों को 212 रु मज़दूरी दी जा रही है।इस प्रकार सरकार भेदभावपूर्ण नीति लागू कर रही है जो पूरी तरह से मनरेगा मज़दूर विरोधी है।यूनियन की यह भी मांग है कि असेसमेंट के नाम पर निर्धारित मज़दूरी भी मज़दूरों को नहीं मिलती है और उसमें कटौती कर दी जाती है।इसलिये यूनियन की सरकार से मांग है कि जब मज़दूर आठ घंटे काम करते हैं तो उन्हें पूरा वेतन मिलना चाहिए और किसी तरह की कटौती नहीं होनी चाहिये।इसके अलावा मनरेगा में निर्धारित 120 दिनों का रोज़गार सुनिश्चित करने की मांग की है।वर्त्तमान में औसतन 60-70 का ही काम मज़दूरों को मिल रहा है।इसके अलावा काम के दिन बढ़ाकर दो सौ साल के करने,काम करने के लिए औजार देने,मिस्त्रियों का प्रावधान करने तथा साप्ताहिक अवकाश देने की भी मांग की गई।राज्य महासचिव भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य व केंद्र सरकार ने मनरेगा का बजट घटा दिया है जिसके कारण कम दिनों का काम मनरेगा मजदूरों को 350 रु दिहाड़ी देने की मुख्यमंत्री से गुहार

सभी तहसीलों से माँगपत्र के बाद मानसून सत्र के दौरान खण्ड स्तर पर होगा प्रदर्शन

मनरेगा मज़दूर यूनियन टिहरा तहसील कमेटी ने मजदूरों को 350 रु नियुन्तम मजदूरी देने के लिए आज नायब तहसीलदार टिहरा के माध्यम से मुख्यमंत्री को माँगपत्र भेजा।यूनियन के राज्य महासचिव व पूर्व ज़िला पार्षद भूपेंद्र सिंह खण्ड अध्यक्ष करतार सिंह चौहान, रामचन्द ठाकुर, राकेश शर्मा, सुमन कुमारी, कंचनलता, इंदुवाला,दिप्पा देवी,रीना, बन्दना, विना, मीना, रंजना, रीता, भामा और आशा आदि के नेतृत्व में आज नायब तहसीलदार टिहरा के माध्यम से मुख्यमंत्री को माँगपत्र भेजा।जिसमें मांग की गई है कि मनरेगा मजदूरों को भी अन्य दिहड़ीदारो के बराबर 350 रु दिहाड़ी दी जाये।यूनियन पदाधिकारियों ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जयराम सरकार दो तरह के मज़दूरी नियम लागू कर रही है जिसके चलते एक तरफ़ दिहड़ीदारों को 350 रु दिए जाते हैं तो वहीं प्रदेश के 27 लाख मनरेगा मज़दूरों को 212 रु मज़दुरीदी जाती है जो न्याय संगत नहीं है।