आदर्श ग्राम योजना की विजेता पंचायतों को किया पुरस्कृत।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में देश भर में प्रथम रहा है जिला हमीरपुर
हमीरपुर 30 अप्रैल। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के कार्यान्वयन में देश भर में प्रथम स्थान पर रहे जिला हमीरपुर के लाभार्थी 17 गांवों के पंचायत प्रधानों, सचिवों और तहसील कल्याण अधिकारियों के लिए शनिवार को होटल हमीर में पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया गया। इस समारोह में अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम लोगों का सशक्तिकरण निदेशालय के निदेशक विवेक भाटिया ने पुरस्कार वितरित किए।
पुरस्कार पाने वालों में ग्राम पंचायत अमरोह की प्रधान मीना कुमारी, सचिव रवि कुमार, किटपल की मीरां देवी, परवीन लता, बडैहर के वीरेंद्र पाल, घनश्याम सिंह, बजड़ोह के ओंकार चंद, अशोक कुमार, चबूतरा की अनु बाला, कमल कांत, चम्बोह के विपन चंद, प्यार चंद, कंज्याण के संदीप कुमार, दर्मयंती देवी, डूहक के राजेश वर्मा, रमेश कुमार, कड़ोहता के हरमिंदर सिंह, रवि कुमार, टिक्करी मिन्हासां की एकता कुमारी, मनीषा, मुंडखर की माया देवी, सरला देवी, रंगड़ के संजीव कुमार, पवन कुमार, समताना कलां के बलजीत सिंह, सुशील कुमार, बराड़ा के अनिल परमार, संजय कुमार और ग्राम पंचायत सरेडी के राजेश कुमार तथा कुलदीप सिंह शामिल रहे।
इस अवसर पर विवेक भाटिया ने बताया कि जिला हमीरपुर के इन 17 गांवों को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 3 करोड़ 40 लाख रुपये का प्रावधान किया गया था। इसके अलावा कनवर्जेंस के तहत भी लगभग 18 करोड़ 62 लाख रुपये के विकास कार्य मंजूर किए गए थे। इस धनराशि से गांवों में एंबुलेंस रोड एवं पक्के रास्तों का निर्माण, सोलर लाईट्स की स्थापना, पेयजल स्रोतों का सुदृढ़ीकरण, नालियों का निर्माण और पक्के मकानों का निर्माण किया गया। गर्भवती महिलाओं के संस्थागत प्रसव, सभी परिवारों को गैस कनेक्शन और बैंक खाते इत्यादि मानकों में भी इन गांवों ने शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल किए हैं। सभी पंचायत प्रधानों और अधिकारियों को बधाई देते हुए विवेक भाटिया ने कहा कि वे सरकार की अन्य कल्याणकारी योजनाओं के भी शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने की दिशा में कार्य करें। लोगों को इन योजनाओं के प्रति जागरुक करें, ताकि सभी पात्र लोग इनका लाभ उठा सकें।
कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त देबश्वेता बनिक, एडीएम जितेंद्र सांजटा, जिला कल्याण अधिकारी डॉ. संजीव शर्मा, इंडसइंड बैंक के क्षेत्रीय प्रमुख कुलराज राय और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।