बिलासपुर: हर वर्ष 28 मई को नेहा जयंती मनाई जाती है, जिसमे शिमला आईजीएमसी के किडनी कैंसर और थैलेसीमिया रोगियों के लिए रक्तदान शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

बिलासपुर घुमारवीं: 27 मई 2022, 28 मई को पुराना बस अड्डा घुमारवीं के नजदीक पहलवान कंपलैक्स में दस बजे से चार बजे तक रक्तदान शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर में रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। घुमारवीं से 40 किलोमीटर के दायरे से चार रक्तदाता समूह में आना चाहते हों तो उनके लिए टैक्सी की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जा सकती है।

हर वर्ष 28 मई को “नेहा जयंति” मनाई जाती है जिसमें शिमला आईजीएमसी के किडनी, कैंसर व थैलेसीमिया रोगियों के लिये रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता है। शिविर में नेहा मानव सेवा सोसाइटी की ओर से आने वाले रक्तदाताओं के लिए रिफ्रैशमैंट व भोजन व्यवस्था भी की जा रही है।

नेहा मानव सेवा सोसाइटी के संस्थापक एवं सचिव ने बताया की 28 मई 1995 को हमारे घर में दूसरी बेटी नेहा बरुर का जन्म हुआ तो बहुत खुशियां मनाई गई। बड़ी बहन प्रियंका बहुत खुश थी। उससे खेलने के लिये छोटी बहन मिल गई थी। दोनो बहनें कक्षा बाहरवीं तक घुमारवीं के हिम सर्वोदय स्कूल में पढ़ीं। आगे की शिक्षा के लिये नेहा एमसीएम डीएवी कॉलेज फार वुमैन चंडीगढ़ में गई। बीएससी के अंतिम वर्ष में 14 मार्च 2015 को एक कार हादसे में नेहा हम सब को बिलखता हुआ छोड़ कर बैकुण्ठ यात्रा पर चली गई।

इच्छुक रक्तदाताओं से निवेदन है कि इस शिविर में बढ़ चढ़ कर भाग लें व नये रक्तदाताओं को प्रेरित करते हुए उन्हें भी साथ लाए। इच्छुक रक्तदाता अपना नाम, पता या कमैंट बाक्स में या मेरे व्हाट्सएप्प नंबर 8219337757 में लिख कर भेज दें ताकि रजिस्ट्रेशन की जा सके।