बिलासपुर: जिला बिलासपुर की वर्चुल मीटिंग जिला प्राथमिक शिक्षक संघ प्रधान रमेश शर्मा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।

बिलासपुर घुमारवीं: 25 मार्च 2022 प्राथमिक शिक्षक संघ जिला बिलासपुर की वर्चुल मीटिंग जिला प्राथमिक शिक्षक संघ प्रधान रमेश शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न हुई मीटिंग में महासचिव असुनील शर्मा , कोषाध्यक्ष सुशील कुमार ,वरिष्ठ उप प्रधान जोगिंदर कुमार ,कोषाध्यक्ष सुशील कुमार, सचिव नरेश शर्मा, महालेखाकार बलबीर ठाकुर ,मुख्य सलाहकार अमरनाथ, प्रेस सचिव सतपाल ठाकुर, उपस्थित थे।मीडिया को जानकारी देते हुए जिला मीडिया प्रभारी खूब सिंह ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि बैठक में जेबीटी के जिला में चल रहे रिक्त पदों पर विस्तृत चर्चा की गई। इस समय जिला में 250 से ज्यादा जेबीटी के पद खाली चल रहे हैं। कई पाठशालाएं बिना अध्यापक चल रही है तो सैकड़ों पाठशालाओं में मात्र एक ही अध्यापक कार्यरत है। नर्सरी की 3 कक्षाएं व प्राइमरी की पांच कक्षाओं को पढ़ाना तथा अन्य कागजी कार्यवाही को पूरा करना बहुत ही कठिन हो गया है। पिछले साल से जहां जेबीटी भर्ती रुकी हुई है वही सरकार मल्टीटास्क वर्कर नियुक्ति तथा नर्सरी टीचर्स 3की नियुक्ति पर भी शीघ्र कार्यवाही नहीं कर रही है। इन भर्तियों में हो रहे विलंब के कारण प्राथमिक शिक्षा का ढांचा पूरी तरह से चरमरा गया है। प्राथमिक शिक्षक संघ ने इन भर्तियों की प्रक्रिया कमीशन व बैच वाइज शीघ्र पूरी करने की मांग की है। निदेशक प्रारंभिक शिक्षा डॉ पंकज ललित के समक्ष यह विषय जिला प्रधान रमेश शर्मा द्वारा विस्तार से उठाया गया है। जेबीटी की बैच वाइज भर्ती में एक ही अभ्यर्थी की विभिन्न जिलों में नियुक्ति होने से बचने के लिए सभी अभ्यर्थियों से जिन्होंने कई जिलों में काउंसलिंग में भाग लिया है से जिला वार नियुक्ति हेतु अधिमान लेकर निदेशालय स्तर पर चयन सूची बनाने की भी मांग की गई है। निदेशक प्रारंभिक शिक्षा में संघ के सुझाव पर त्वरित कार्यवाही करने का विश्वास दिलाया है। जेबीटी की बैच वाइज भर्ती पर जल्द कार्यवाही का आश्वासन दिया है। उन्होंने अन्य भर्तियों को भी शीघ्र कर प्राथमिक शिक्षा के ढांचे को मजबूत करने की बात कही है।इस मीटिंग में विशेष रुप से राज्य सचिव राकेश पटियाल ,राज्य कार्यालय सचिव राजीव शांडिल तथा 5 शिक्षा खंडों के प्रधान होशियार सिंह, बसंत ठाकुर ,कश्मीर सिंह, अनिल शर्मा और नरेश राणा और उनकी समस्त कार्यकारणी उपस्थित थे।