कुल्लू जिला के बबेली क्षेत्र में मरे मिले सात कौवों के सैंपल में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इससे सरकारी महकमे और प्रशासन सक्रिय हो गए हैं व ऐहतियात बरतने के लिए डीसी कुल्लू की अध्यक्षता में बैठक बुलाई गई है। जिला कुल्लू के बबेली में 27 मार्च को पशु पालन विभाग ने 7 मरे हुए कौवों के सैंपल लिए थे। सैंपल को जांच के लिए पहले जालंधर भेजा गया और उसके बाद भोपाल राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान में 3 अप्रैल को इन सैंपल की रिपोर्ट में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

स्थिति की समीक्षा के लिए उपायुक्त कुल्लू की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें बर्ड फ्लू सतर्कता को लेकर उपायुक्त कुल्लू डॉ. ऋचा वर्मा ने वन विभाग को वन्य पक्षियों की व्यापक स्तर पर निगरानी रखने, मृत पक्षियों का उचित तरीके से निपटारा करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर मृत पक्षी पाए जाते हैं, उस स्थान को डिसइन्फेक्टेंट किया जाए। पशुपालन विभाग को एहतियात के तौर पर घरेलू मुर्गियों तथा चिकन की दुकानों की निगरानी करने व सैंपल लेने को कहा गया है।

नगर परिषद को भी निर्देश

नगर परिषद कुल्लू, मनाली एवं नगर पंचायत भुंतर के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि चिकन के दुकानदारों द्वारा मुर्गों के अपशिष्ट को खुले में न फेंका जाए व उचित ढंग से निपटारा किया जाए।