ब्रेकिंग – IGMC की जूनियर महिला डॉक्टर ने की आत्महत्या।

आईजीएमसी में जूनियर महिला डॉक्टर द्वारा इहलीला समाप्त करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है की छात्रा शल्य चिकित्सा में पीजी कर रही थी, जिसने बुधवार सुबह अपने कमरे में खौफनाक कदम उठाया। छात्रा IGMC के नजदीक अपनी निजी रिहाईश में रह रही थी। घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है, पुलिस छानबीन में जुट गई है।

अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मृतका को सुबह 9:00 बजे ड्यूटी पर आना था, लेकिन जब बिना बताए वह अस्पताल नहीं पहुंची तो उससे संपर्क करने की कोशिश की गई। संपर्क करने पर जब कमरे में पहुंचे तो पाया कि वो मौत के आगोश समा चुकी है। आईजीएमसी में पीजी छात्रा के इस कदम के बाद हड़कंप मच गया है। इस बात की तस्दीक नहीं हुई है कि आखिर डॉक्टर ने ये कदम क्यों उठाया।

फिलहाल पुलिस इस मामले में कुछ भी कहने से इनकार कर रही है। हालांकि, जांच में ये सामने आया है कि पीजी छात्रा कमरे में अकेले थी। शिमला पुलिस के एसएचओ सदर संदीप कुमार माैके पर पहुंचे हैं।

उन्होंने कहा कि मृतक आईजीएमसी में पीजी कर रही थी और जूनियर डॉक्टर के पद पर कार्यरत थी। मौत के क्या कारण रहे हैं, इस बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। शव को कब्जे में लिया गया है। वो कहां की रहने वाली थी , इसकी डिटेल भी पता की जा रही है। फिलहाल तफ्तीश की जा रही है। इस बारे में आसपास रहने वाले लाेगाें से भी पूछताछ हाेगी।