मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज नई दिल्ली में केन्द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से भेंट कर उन्हें मंत्रालय का पदभार संभालने की बधाई और शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री से वन और पर्यावरण से सम्बन्धित विभिन्न मुद्दों पर विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने प्रदेश में चल रही विकासात्मक गतिविधियों में और तेजी लाने के लिए पांच हेक्टेयर वन भूमि तक परिवर्तित करने की शक्ति प्रदान

राज्य सरका को प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि पहाड़ी राज्य होने के कारण हिमाचल का अधिकतर क्षेत्र वन भूमि के अन्तर्गत आता है, जिससे

परियोजनाओं को पूरा करने में बाधा उत्पन्न होती है।यदि वन भूमि को परिवर्तित करने की शक्ति राज्य को प्रदान की जाती है तो विकासात्मक परियोजनाओं के कार्य निष्पादन में तेजी आएगी।

उन्होंने अवगत करवाया कि हिमाचल प्रदेश देहरादून क्षेत्रीय कार्यायल के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत है जो काफी दूर है और विकास कार्यों में विलंब होता है।यदि हिमाचल

प्रदेश को क्षेत्रीय कार्यालय चण्डीगढ़ के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत शामिल किया जाता है तो कार्य निष्पदान में सुगमता और तेजी आएगी क्योंकि चंडीगढ़ हिमाचल के काफी निकट है।

केन्द्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री को उनकी शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद किया और उनके द्वारा रखे गए मामलों पर गंभीरता से विचार करने का आश्वासन दिया।

मुख्य सचिव बी.के अग्रवाल भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Desk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here