मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में आज प्रतिनिधि मण्डल ने नीदरलैंड के ऊस्टरहॉउट में ‘डालको फूड्स फैसिलिटी’ का दौरा किया और हिमाचल प्रदेश में फल प्रसंस्करण विशेष रूप से सेब प्रसंस्करण की संभावनाओं का पता लगाने के लिए कार्य प्रणाली को समझा।

प्रतिनिधि मण्डल ने डालको फूड्स फैसिलिटी में प्रोटीन आधारित शाकाहारी भोजन के बारे में प्रत्यक्ष रूप से जानकारी प्राप्त की। डालको फूड्स फैसिलिटी को पूरे विश्व में पौधों पर आधारित प्रोटीन युक्त फलों के लिए जाना जाता है।

मुख्यमंत्री ने उनके उत्पादों में गहरी रुचि दिखाते हुए कहा कि हिमाचल में विविध जलवायु परिस्थितियां होने के कारण प्रदेश में विभिन्न प्रकार के फलों का उत्पादन होता है, इस कारण प्रदेश में फल प्रसंस्करण क्षेत्र में व्यापक संभावनाएं उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में उच्च गुणावत्ता वाले फल उत्पन्न होते हैं, जो प्रसंस्करण के लिए उपयुक्त है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में फल प्रसंस्करण आधारित उद्योगों को लगाने की संभावनाओं का पता लगाया जाएगा तथा इस क्षेत्र में इच्छुक उद्यमियों को निवेश के लिए प्रदेश सरकार द्वारा हर संभव सहायता दी जाएगी।

प्रतिनिधि मण्डल ने डालको फूड्स के ‘शॉप फ्लोर’ का भी दौरा किया तथा वहां विभिन्न उत्पादों को बनाने में इकाई द्वारा अपनाई जा रही हाइजीनिक तकनीकों के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, भारत के नीदरलैंड में राजदूत वेणु राजामोनी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार, निदेशक उद्योग हंस राज शर्मा, विशेष सचिव आबिद हुसैन सादिक और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Desk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here