मुख्यमंत्री ने मंडी में 62.16 करोड़ रुपये लागत की चार विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

मंडी में 28.55 करोड़ रुपये के मातृ एवं शिशु अस्पताल भवन और 2.36 करोड़ रुपये के आदर्श करियर केंद्र का लोकार्पण किया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मंडी में 62.16 करोड़ रुपये लागत की चार विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।
मुख्यमंत्री ने कांगनीधार में विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित एचपीएचडीपी के तहत 1.30 करोड़ रुपये की लागत से मुख्य मार्केट यार्ड के उन्नयन और सुदृढ़ीकरण, मंडी में 28.55 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 100 बिस्तरों की क्षमता के मातृ एवं शिशु अस्पताल भवन और 2.36 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित आदर्श करियर केंद्र का लोकार्पण किया। उन्होंने कांगनी में 29.02 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली अनाज मंडी का भी शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बेटी है अनमोल कार्यक्रम के तहत एक बालिका को सम्मानित किया और अपने साथ लोकार्पण और शिलान्यास करने का अवसर प्रदान किया।
इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आदर्श करियर केंद्र रोजगार के अवसरों के लिए तैयारी कर रहे प्रतिभागियों और विद्यार्थियों को परामर्श प्रदान करने का बेहतरीन मंच साबित होगा। उन्होंने कहा कि आदर्श करियर केंद्र बड़े पैमाने पर एनसीएस पोर्टल पर काम करेगा और यह पोर्टल प्रतिभागियों को पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध करवाने के अलावा व्यक्तित्व विकास के माध्यम से कौशल उन्नयन की भी सुविधा उपलब्ध करवाएगा। यह केंद्र प्रतिभागियों को स्वयं पंजीकरण की प्रक्रिया को समझने और परिसर साक्षात्कार प्रक्रिया की तैयारी करने में भी सहायक होगा।
जय राम ठाकुर ने कहा कि इस अनाज मंडी का प्रथम चरण 15 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होगा। उन्होंने कहा कि इस अनाज मंडी का निर्माण करने के लिए 20 बीघा से अधिक भूमि प्रदान की गई है, जो किसानों तथा व्यापारियों के लिए लाभदायक सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि माताओं और बच्चों की स्वास्थ्य आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए 29 करोड़ रुपये की लागत से 100 बिस्तरों की क्षमता वाले मातृ एवं शिशु अस्पताल को सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। उन्होंने मंडी और सुन्दरनगर में दो मातृ एवं शिशु अस्पताल प्रदान करने के लिए तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा का भी आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान इन अस्पतालों में कुछ भी नहीं किया लेकिन वर्तमान राज्य सरकार ने सत्ता में आने के तुरन्त पश्चात निर्माण कार्य में तेजी लाई।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल के दौरान राज्य में विशेषकर जिला मंडी में अभूतपूर्व विकास सुनिश्चित हुआ है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा विश्वविद्यालय, राज्य विश्वविद्यालय, शिवधाम, देव सदन इत्यादि कुछ परियोजनाएं हैं, जो जिला मण्डी के विकास के इतिहास में मील पत्थर साबित होंगे। उन्होंने कहा कि 27 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय महाविद्यालय मण्डी का भवन आगामी दो माह के भीतर जनता को समर्पित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मण्डी शहर में बेहतर पार्किंग सुविधा उपलब्ध करवाने के प्रयास भी किए जाएंगे।
जय राम ठाकुर ने कहा कि विनम्र पृष्ठभूमि से सम्बन्ध रखने के कारण वह आम जनता की विकासात्मक जरूरतों को समझते हैं। उन्होंने कहा कि शिमला के सचिवालय एवं ओक ओवर, मण्डी, सोलन तथा धर्मशाला में मुख्यमंत्री व अन्य मंत्रियों से लोगों द्वारा भेंट कर उनकी जन समस्याओं के समाधान करने के लिए संवाद सदन निर्मित किए गए। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार के संवाद सदन मनाली, ऊना और राज्य के अन्य भागों में भी निर्मित किए जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता द्वारा कई कार्यकाल तक सत्ता में रहने के बावजूद जिला में किसी भी प्रकार का विकास न करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि वही नेता अब वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा जिला मंडी में किसी भी प्रकार का विकास न करने का आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला मंडी में हवाई अड्डा अवश्य बनेगा, जिससे जिला की आर्थिकी में बहुत बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि नई जनगणना का कार्य पूरा होने पर राज्य सरकार नगर निगम मंडी में शामिल किए गए क्षेत्रों को इससे बाहर निकालने पर विचार करेंगी, क्योंकि नई जनगणना के पश्चात आवश्यकता मापदंड पूर्ण करने के लिए मंडी नगर में उपयुक्त जनसंख्या सुनिश्चित हो जाएगी।
विधायक अनिल शर्मा ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मंडी जिला से होने के कारण लोगों को मुख्यमंत्री से बहुत उम्मीदें हैं। उन्होंने कहा कि एक बागवान होने के नाते वह किसानों की मुश्किलों को भलीभांति समझते हैं। उन्होंने कहा कि मण्डी शहर को सीवरेज योजना और इंदिरा मार्केट उपलब्ध करवाने का श्रेय पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय पंडित सुख राम की दूरदर्शीता थी। उन्होंने क्षेत्र की विकासात्मक मांगों को भी मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया। उन्होंने मुख्यमंत्री से शहर में उचित परिवहन क्षेत्र उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया
कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव भंडारी ने इस अनाज मंडी के लिए जिला के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि इससे किसानों को बिचौलियों से मुक्ति मिलेगी और उन्हें उनकी उपज का उचित मूल्य मिल पाएगा। उन्होंने कहा कि सोलन जिला के परवाणू में एक फूल मंडी भी स्थापित की गई है, जो क्षेत्र में फूलों की खेती करने वालों के लिए वरदान साबित होगी।
एपीएमसी मण्डी के अध्यक्ष दलीप ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कांगनी में 29.06 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली अनाज मण्डी का शिलान्यास करने के लिए उनका आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मार्केट यार्ड किसानों को उनकी उपज का उनके घरों के पास विपणन करने में भी मदद करेगा।
विधायक राकेश जम्वाल, विनोद कुमार, जवाहर ठाकुर, इंद्र सिंह गांधी, पूर्व विधायक डी.डी. ठाकुर और कन्हैया लाल, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, महिला मोर्चा मंडी की अध्यक्ष सुमन ठाकुर, उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी और अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।
.0.