डरवाड़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चार माह से बिना डॉक्टर के,एक दर्ज़न गांवों के लोग स्वास्थ्य सेवा से हैं वंचित।

टिहरा मण्डी) – डरवाड़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पिछले चार महीनों से डॉक्टर न होने के कारण जनता को भारी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है।हिमाचल किसान सभा पँचायत कमेटी के प्रधान मेहर सिंह पठानिया, रणबीर शास्त्री, सुरेंद्र पाल, मान सिंह, अशोक कुमार, रामस्वरूप, प्रेम सिंह, पृथी सिंह, सगरचन्द, अच्छर सिंह, बालकृष्ण,लेख राज, हँसराज,देवराज, कृष्ण देव, सूरत सकलानी, मनोहर लाल, शम्भू सकलानी, बंसी सकलानी, राजू राम, कैप्टन महाजन सिंह, हेमचन्द,टेक सिंह, रूप लाल विष्ट, सुरेंद्र पठानिया, रूप चन्द, बालम राम, जीत सिंह, देश राज, हेमराज आदि ने सरकार से यहां पर डॉक्टर लगाने की मांग की है।उधर उन्होंने कहा कि वर्तमान में एक दर्ज़न वार्डों की जनता को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध नहीं हो रही है ।और वर्त्तमान सरकार के समय धर्मपुर में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति बहुत ज्यादा ख़राब है।सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में एक्सरे और लैब की सुविधा उपलब्ध नहीं है।उन्होंने इसके लिए जलशक्ति मंत्री को जिमेदार ठहराया है जो ठेके के कामों को पूरा करने के लिए ही प्राथमिकता देते हैं । लेकिन स्वास्थ्य विभाग के प्रति उदासीन बने हुए हैं।उन्होंने कहा कि धर्मपुर खण्ड में तीन जगह संधोल, धर्मपुर और टिहरा में अस्पताल हैं, लेकिन कहीं पर भी विशेषज्ञ डॉक्टर उपलब्ध नहीं है। इधर बी०एम०ओ संधोल डॉक्टर एके सिंह ने बताया कि खाली पदों को लेकर सारा मसौदा उच्च अधिकारियों के ध्यान में है।