भोरंज -जख्योल – मनोह सड़क की मुरम्मत की मांग

जिला के भोरंज उप- मण्डल की खरबाड़ पंचायत में जख्योल से मनोह सड़क की हालत इतनी दयनीय है कि वहां पर वाहन तो दूर स्थानीय लोगों को पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। इस सड़क में लगभग 4-5 कि०मी० की दूरी तक इतने गढ्ढे पड़ चुके हैं कि बरसाती पानी भरने से यह सड़क तालाब ही लगती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस समस्या के बारे लोक निर्माण विभाग को कई बार आवगत भी करवाया जा चुका है , लेकिन विभागीय अधिकारी हर बार नया बहाना बना कर लोगों को चलता करते हैं। जगह-जगह से टूट चुकी इस सड़क के चलते लगभग आधा दर्जन गांवों के लोगों का जीना दुश्वार हो गया है। विभागीय लापरवाही की शिकार इस सड़क पर अक्सर दो- पहिया वाहन चालक गिर कर घायल होते रहते हैं। इस सड़क से आने – जाने वाले राहगीरों को वाहनों के टायरों से छिटक कर पत्थर लगना भी आम बात हो गई है। इस सड़क की खस्ता हालत के चलते निजी बस आपरेटर्स ने भी बसें इस सड़क – मार्ग पर न भेजने का मन बना लिया है। निजी स्कूलों की बसें भी सुबह-शाम हिचकोले खाती हुए अति धीमी गति से चलने के कारण छात्र पाठशालाओं को समय पर नहीं पहुंच पाते। स्थानीय लोगों ने लोक निर्माण विभाग व जिला प्रशासन से इस सड़क की मुरम्मत अति शीघ्र करने की मांग रखी है। इस विषय में लोक निर्माण विभाग भोंरज स्थिति,एसडीओ अनिल शर्मा ने बताया कि इस सड़क के मुरम्मत कार्य में एक – दो स्थानीय लोग रुकावट पैदा कर रहे हैं। जिसके चलते यह काम नहीं हो पा रहा। उधर, जब इस क्षेत्र से विधायक कमलेश कुमारी‌ से दूरभाष पर संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि वे इस समय कार्यक्रम में व्यस्त हैं, थोड़ी देर बाद बात होगी।