धर्मपुर नशे की चपेट में – लता पठानिया।

टिहरा( मण्डी) – क्षेत्र में ड्रग माफिया सक्रिय रूप से बेरोकटोक काम कर रहा है । और प्रशासन व् सरकार के कानों पर जूं नहीं रेंगती नजर आ रही है ।19 वर्षीय धीरज नशे की वेदी चढ़ गया तथा आरोपी युवकों का भविष्य गर्त में जा रहा है। लेकिन मलाल है कि तेजतर्रार मंत्री एवं स्थानीय विधायक की ओर से अभी तक कोई वक्तव्य सामने नहीं आया । यहां तक कि धर्मपुर मैं अपना भविष्य तलाशने वाले उतराधिकारियों का भी कोई बयान जनता तक नहीं पहुंचा। इसका मतलब उन्हें स्थानीय जनता के दुख दर्द से कोई सरोकार नहीं है। उनके लिए जनता केवल एक वोट बैंक है। अगर ऐसा नहीं है तो फिर ड्रग माफिया पर शिकंजा क्यों नहीं कसा जा रहा है। क्यों खुलेआम बच्चों के जीवन के साथ खेला जा रहा है। धीरज कांड का मामला यदि सोशलमीडिया परउजाकर ना होता तो और न जाने क्या -क्या परेशानियां परिजनों और समाज को उठानी पड़ती। जबकि 18 दिन परिजनों ने जो परेशानियां झेली वे अस्मरणीय हैं। हालांकि मंगलवार को गरयोह पंचायत में स्थानीय पंचायत प्रधान बख्शी राम गुलेरिया की पहल पर नशा मुक्ति अभियान का आयोजन किया गया। जिसमें गरयोह व सरौन पंचायत के लोगों ने शिरकत की । यह आयोजन देर हुआ पर दुरुस्त हुआ लेकिन समाज कितना सहयोग करता है,यह आने वाला वक्त ही बताएगा। ये वक्तव्य बेटियां फाउंडेशन सरकाघाट की अध्यक्षा लता पठानिया ने दिया। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि बच्चे देश का भविष्य है, जहां मां-बाप, समाज व स्कूल जिम्मेवार हैं वहीं उनके संरक्षण के लिए सरकार को भी कड़े नियम बनाने चाहिए और समाज विरोधी गतिविधियों पर नकेल कसनी चाहिए।