कृषि बिलों के कारण भाजपा को हरियाणा में बड़ा झटका लगा है। फतेहाबाद जिले के पूर्व विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया ने भाजपा का साथ छोड़ दिया है। कृषि बिलों के विरोध में किसानों का साथ देते हुए दौलतपुरिया ने यह फैसला लिया है। विधानसभा चुनाव से पहले इनेलो छोड़कर दौलतपुरिया भाजपा में शामिल हुए थे।

रविवार को गांव दौलतपुर में मुख्य चौक पर एक पंचायत का आयोजन किया गया था। इसमें सैकड़ों की संख्या में किसानों और ग्रामीणों ने भाग लिया था। किसानों ने पूर्व विधायक से कहा कि अगर वो उनका साथ देना चाहते हैं तो भाजपा छोड़ दें। इसके तुरंत बाद दौलतपुरिया ने भारतीय जनता पार्टी को छोड़ने की बात कह दी। वहीं उनकी गाड़ी पर लगा भाजपा का झंडा भी उतार दिया।

पार्टी छोड़ने का ऐलान करने के बाद उन्होंने भाजपा के खिलाफ नारे भी लगाए। इसके बाद गाड़ी पर किसान आंदोलन का झंडा लगा लिया। पंचायत खत्‍म होने के बाद वे हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मुलाकात करने पहुंचे। दौलतपुरिया ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों के साथ गलत कर रही है। वे खुद किसान हैं। ऐसे में इस पार्टी में कैसे रह सकते थे।