राज्यपाल ने ऊना में चिकित्सा शिविर का शुभारंभ किया।

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा के चार वर्ष पूर्ण होने पर प्रयास संस्था के सौजन्य से आयोजित निःशुल्क चिकित्सा शिविर का शुभारंभ किया। उन्होंने नाहन, पांवटा साहिब, जसवां परागपुर और देहरा विधानसभा क्षेत्रों के लिए चार नई मोबाइल स्वास्थ्य वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने मोबाइल कैंसर डिटैक्शन बस के 600वें कैम्प का भी शुभारंभ किया। चिकित्सा शिविर में उत्तर भारत के प्रसिद्ध चिकित्सा संस्थानों से आए डाक्टरों ने लोगों की जांच की।
राज्यपाल ने प्रयास संस्था की उपलब्धियों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि संस्था ने चार वर्षों में अनेक सराहनीय कार्य किए हैं। उन्होंने कहा कि संस्था के आरम्भ में तीन मोबाइल यूनिट संचालित की जा रही थी और आज सात जिलों के 23 विधानसभा क्षेत्रों में 32 मोबाइल यूनिट संचालित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि आज सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा के माध्यम से लोगों को घर-द्वार पर मेडिकल टेस्ट की सुविधा के साथ निःशुल्क दवाईयां और उपचार की सुविधा उपलब्ध हो रही हैं।
राज्यपाल ने 14 मोबाइल स्वास्थ्य सेवा यूनिट के सदस्यों सहित मेडिकल कैम्प में सेवाएं प्रदान कर रहे चिकित्सकों को सम्मानित किया।
केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा के साथ-साथ प्रयास संस्था के माध्यम से प्रदेश में कार्यान्वित की जा रही विभिन्न परोपकारी गतिविधियों की सराहना की।
इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर तथा छठे राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने अपने विचार व्यक्त किए।
इस अवसर पर नाहन के विधायक डॉ. राजीव बिन्दल, चिंतपूर्णी के विधायक बलवीर चौधरी, उपायुक्त ऊना राघव शर्मा, पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर, राज्य औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रोफेसर राम कुमार, राज्य व्यापार प्रमुख कमल चुग्ग, निदेशक यूपीएल लिमिटेड विक्रम श्रॉफ, प्रयास संस्था के महासचिव विजय कुमार तथा समन्वयक संजीव राजपूत उपस्थित थे।