जीएसटी की मार: प्रति ईंट पर हुई एक रुपये की बढ़ोतरी।

जीएसटी में सात फीसदी बढ़ोतरी के बाद ईंट पर भी बढ़ोतरी हो गई है। हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना में अब प्रति हजार ईंट के आठ हजार रुपये चुकाने होंगे। इस तरह प्रति ईंट अब आठ रुपये पर मिलेगी। वहीं, ट्रांसपोर्टेशन और ढुलाई अलग रहेगी। बता दें कि पहली अप्रैल से ईंट के लिए जीएसटी पांच से बढ़कर 12 प्रतिशत हो गया है। ऐसे में ईंट भट्ठा संचालकों ने भी रेट में इजाफा कर दिया है। ईंट के निर्माण के लिए जरूरी कोयले और अन्य सामान के बढ़ने के साथ अब जीएसटी की मार पड़ी है।

वहीं, इसका सीधा असर आशियाना बनाने का सपना देख रहे लोगों पर पड़ेगा। दो माह में करीब 15 सौ रुपये प्रति हजार ईंट के दाम बढ़े हैं। ईंट के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। भट्ठा संचालकों की मानें तो हर चीज महंगी हो रही है। वहीं, जीएसटी भी बढ़ा है। ऐसे में स्वाभाविक है कि दाम भी बढ़ेंगे। घर का निर्माण कर रहे स्थानीय सुशील कुमार, कुलवंत सिंह, महेश कुमार तथा देशराज का कहना है कि अभी दो माह पहले 6500 रुपये प्रति हजार ईंट ले गए थे। अब आठ रुपये चुकाने पड़े हैं।