सरकार, प्रशासन और आम जनता के बीच एक सेतु है मीडिया

ब्यूरो प्रमुख हमीरपुर (विवेक शर्मा) पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) शिमला ने वीरवार को होटल हमीर में जिला के प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडियाकर्मियों के लिए वार्तालापकार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम में जिलाधीश देबश्वेता बनिक ने मुख्य अतिथि के रूप में भाग लिया। जबकि, पत्र सूचना कार्यालय के अतिरिक्त महानिदेशक राजेंद्र चौधरी भी विशेष रूप से उपस्थित रहे।

इस अवसर पर जिलाधीश ने कहा कि प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सरकार, प्रशासन और आम जनता के बीच एक बहुत ही महत्वपूूर्ण कड़ी के रूप में कार्य करता है। सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को आम जनता तक पहुंचाने के साथ-साथ मीडिया इन योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में सरकार और प्रशासन को महत्वपूर्ण फीडबैक भी प्रदान करता है। जिलाधीश ने कहा कि सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाएं आम नागरिक पर ही केंद्रित होती हैं और इन योजनाओं के क्रियान्वयन में सरकारी अधिकारियों के साथ-साथ मीडिया की भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसलिए प्रशासन और मीडिया में आपसी समन्वय अत्यंत आवश्यक है।

वार्तालापके आयोजन के लिए पीआईबी की सराहना करते हुए देबश्वेता बनिक ने कहा कि इस तरह के आयोजनों से प्रशासन को मीडियाकर्मियों के साथ सीधा संवाद करने और उनके साथ बेहतर समन्वय स्थापित करने में काफी मदद मिलती है। उन्होंने कहा कि सरकारी प्रैस विज्ञप्तियों के अलावा पीआईबी अन्य माध्यमों से भी केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कर रही है। इसी कड़ी में सुजानपुर के होली उत्सव में भी पीआईबी ने मल्टी मीडिया प्रदर्शनी और फोक मीडिया के माध्यम से आम लोगों को जागरुक किया।

इस अवसर पर जिलाधीश, अन्य वक्ताओं और सभी पत्रकारों का स्वागत करते हुए पीआईबी के चंडीगढ़ कार्यालय के अतिरिक्त महानिदेशक राजेंद्र चौधरी ने कहा कि मीडिया सरकार और आम जनता के बीच सेतु के रूप में कार्य करता है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की योजनाओं को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहचाने के लिए पीआईबी के चंडीगढ़ कार्यालय की ओर से जिला स्तर पर वार्तालापकार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार का काम कल्याणकारी योजनाएं बनाना और उनको लागू करना है, जबकि मीडिया इन योजनाओं की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाता है। इन योजनाओं के संबंध में लोगों की प्रतिक्रिया सरकार तक पहुंचाने में भी मीडिया अपनी भूमिका अदा करता है। चौधरी ने कहा कि आज के दौर में डिजिटल मीडिया भी सूचनाओं के आदान-प्रदान का एक सशक्त माध्यम बन चुका है। अतिरिक्त महानिदेशक ने उपस्थित मीडियाकर्मियों को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की पत्रकार कल्याण योजना के अलावा अन्य योजनाओं से भी अवगत करवाया।

उन्होंने कहा कि पीआईबी कार्यालय पत्रकारों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए हिमाचल प्रदेश सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सहयोग सोशल मीडिया एवं व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाएगा। इस ग्रुप में विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी और सफलता की कहानियां साझा की जाएंगी।  

कार्यक्रम के दौरान तहसीलदार डॉ. अशोक पठानिया ने मीडियाकर्मियों को केंद्र सरकार की स्वामित्व योजना और जिला में इस योजना के कार्यान्वयन से संबंधित सर्वे एवं अन्य प्रक्रियाओं की जानकारियां प्रदान कीं। उन्होंने बताया कि हिमाचल में जिला हमीरपुर में यह योजना पायलट आधार पर एक नवंबर 2021 से शुरू की गई है। जिला के 365 आबादी देह गांवों में इसका ड्रोन सर्वे पूरा हो चुका है।

इस अवसर पर जिला लोक संपर्क अधिकारी मीना बेदी ने वार्तालापकार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि मीडिया के साथ समन्वय स्थापित करने की दिशा में यह पीआईबी की बहुत ही अच्छी पहल है। इस कार्यक्रम के माध्यम से जहां मीडिया के साथ सीधा संवाद होगा, वहीं सरकार की विभिन्न योजनाओं के संबंध में फीडबैक भी मिलेगी।  

वार्तालापमें अन्य योजनाओं और पत्रकारों से सूचना के आदान-प्रदान के संबंध में भी व्यापक चर्चा की गई। इस दौरान मीडिया के प्रतिभागियों के साथ बातचीत के बाद विभिन्न सत्रों के दौरान विभिन्न विषयों पर विचार-विमर्श किया गया। पीआईबी के शिमला कार्यालय के उपनिदेशक तारिक अहमद राठर ने कार्यक्रम का संचालन किया। क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी अहमद खान ने सभी आभार व्यक्त किया।