46 वर्ष बाद मिले पुराने सभी छात्र और शिक्षक

राजकीय बहू तकनीकी संस्थान हमीरपुर में लगभग आधी सदी बाद वह पुराने छात्र और उन दिनों के शिक्षक आपस में मिले तो एक इतिहास बना
1963 से यह संस्थान हमीरपुर में स्थापित हुआ था तब से ना जाने कितनी छात्र यहां से शिक्षा ग्रहण करके देश विदेश में सेवाएं देकर सेवानिवृत्त हो गए हैं
1973-76 बैच के सभी पुराने छात्र और उन दिनों के प्राध्यापकों का इतने वर्षों बाद हमीरपुर कैंपस में मिलन हुआ तो स्थिति अद्भुत और रोमांच पैदा कर रही थी छात्र और प्राध्यापक कोई अपने पुत्र पुत्र वधू या पत्नी के साथ आए थे
सब की आयु 65 बर्ष सेऊपर ही थी यह एक ऐतिहासिक क्षण थे
जो भुलाए नहीं भूल सकते
उन सभी पुराने विद्यार्थियों ने अपने सहपाठी दिवंगत रविंद्र नाथ गुलेरिया मरणोपरांत देश सेवा करते हुए कीर्ति चक्र भारत सरकार से मिला है उसे वर्तमान प्रिंसिपल श्री सतीश ढींगरा को कॉलेज में लगाने के लिए दिया ताकि वर्तमान छात्रों को इससे देश प्रेम की प्रेरणा मिले अपने पुराने साथियों,सहपाठियों, छात्रावास के रूममेटस यहां तक की कैंटीन में काम करने वाले उस समय के छोटे से बालक के बालों की सफेदी देखकर आत्मविभोर हो उठे। कोई विदेश से आया तो कोई देश के किसी अन्य कोने से । विभिन्न विभागों में बडे-बडे ओहदों से सेवानिवृत हुए बहुतकनीकी संस्थान के कुछ छात्र अपने पोतों तक को इस बहाने कैंपस का चक्कर लगवाने ले आए थे। सभी की आंखों में कैंपस को देखकर अजीब सी खुशी और मन पुरानी यादें ताजा हो रहीं थीं। अपनी पुरानी यादों को संाझा कर सभी ने फिर किसी ऐेसे ही मौके पर मुलाकात करने का प्रण लेकर विदाई ली