हमीरपुर में आज हिमाचल जनता पार्टी ने किया प्रेस बार्ता का आयोजन।

हिमाचल जनता पार्टी का गठन  हिमाचल की जनता की आम समस्याओं को मद्देनजर रखते हुए किया गया। पहले आम जनता की बेसिक जरूरतें  होती थी रोटी ,कपडा और मकान। पर आज जनता की बेसिक जरूरतें अच्छी शिक्षा ,अच्छा स्वास्थ्य  और अच्छी  नौकरी है।

1 )शिक्षा :-हिमाचल प्रदेश में आज भी कुछ एक इलाके ऐसे हैं जहाँ पर आज भी ये जरूरतें पूरी नहीं हो पाती हैं। लोगों में आज भी एक डर सा बना रहता है कि क्या वे भी उनके बच्चों को एक अच्छा भविष्य दे पाएंगे।

सरकारी स्कूलों में आज भी अध्यापकों की कमी पूरी नहीं हो पा रही है। बच्चों के अभिभावकों  का झुकाव सरकारी  स्कूलों में स्टाफ की कमी के चलते निजी स्कूलों की तरफ ज्यादा हो रहा है किन्तु सभी मध्यम वर्गीय परिवार आर्थिक मज़बूरी के चलते बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दे पा रहे हैं, जो की जिम्मेदारी सरकार की है।

बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलेगी उस से एक बेहतर समाज का निर्माण होगा।

हमारी पार्टी अगर सत्ता में आती है तो बच्चों की मुफ्त  पढ़ाई करवाना  प्री प्राइमरी स्कूल से लेकर कालेज तक की जिम्मेवारी हमारी  सरकार की रहेगी। जिसमे कि छात्रों को मुफ्त अच्छी शिक्षा के साथ साथ यातायात सुविधा मुफ्त दी जाएगी।

2 ) स्वास्थ्य :-आम जनता को हमेशा अपने स्वास्थ्य की चिंता बनी रहती है क्यूँकि कोई गम्भीर बीमारी हो जाने पर नजदीक में कोई अच्छी स्वास्थ्य सुविधा नहीं मिल पाती है। अगर मिलती भी है तो उनको दूसरे राज्यों में जाकर अपना इलाज करवाना पड़ता है जोकि लम्बा रास्ता हो जाता है और कुछ मरीजों की रास्ते में ही मृत्यु हो जाती है।

सरकार ने आमजनता की सहूलियत के लिए वैसे तो बहुत योजनाएं चला रखी है जैसे कि हिमकेयर कार्ड्स ,आयुष्मान कार्ड्स वगैरह। इन कार्ड्स के अंतर्गत सरकारी के साथ साथ निजी अस्पताल भी शामिल हैं ,यानि सरकार इलाज के खातिर निजी अस्पतालों का बिल भरने को तैयार है लेकिन खुद के सरकारी अस्पतालों को सभी सुविधाओं से परिपूर्ण करने में असमर्थ है।

अगर हम सत्ता में आते हैं तो हर प्रकार की स्वास्थ्य सुविधा नजदीक के अस्पताल में उपलब्ध करवायेंगे। किसी भी तरह के कार्ड्स की जरूरत नहीं रहेगी बस अपना आधार कार्ड दिखाओ और इलाज करवाओ।

सभी के लिए मुफ्त स्वास्थ्य मिलेगा।

3 ) रोजगार :-आज के समय में एक पढ़ा लिखा नौजवान बेरोजगारी के चलते  मजदूरी करने को मजबूर है। दिख  सभी को रहा  है कि आज बेरोजगारी किस हद तक है पर कोई आवाज नहीं उठा रहा है और अगर कोई अपने अधिकार के लिए बोल रहा है तो उसकी आवाज दबा दी जाती है।

अगर हमारी पार्टी सत्ता में आती है तो सभी के लिए योग्यता के आधार पर रोजगार उपलब्ध करवाया जायेगा। और हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि सभी परिवारों में कम से कम एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाये।

4 )आरक्षण :-प्रदेश में आरक्षण केवल आर्थिक आधार पर और दिव्यांगों को दिया जायेगा।

 

 

घोषणा पत्र

  • पुरानी पेंशन योजना को वहाल किया जायेगा। MLA  को कम से कम 10 बर्ष कार्यकाल पूरा करने पर ही पेंशन मिलेगी।
  • सशस्त्र सेना में अगर नौकरी के दौरान मृत्यु हो जाती है तो उचित सहायता राशि और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी।
  • हिमाचल में सीमेंट और बिजली के दाम नियंत्रित किये जायेंगे और हिमाचलियों को विशेष छूट दी जाएगी।
  • कृषि व बागवानों को बढ़ावा देना और अनाज मंडियां खोलना।
  • हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा दिया जायेगा जिस से रोजगार के ज्यादा अवसर पैदा होंगे।
  • हिमाचल में नशे के खिलाफ सख्त कदम उठाये जायेंगे जिस से हिमाचल नशा मुक्त होगा।
  • खेलों को बढ़ावा देने के लिए हर जिले में एक स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स खोला जायेगा।
  • चुनाव के लिए कोई टिकट की बिक्री नहीं की जाएगी ,पार्टी चुनाव अपने बल-बूते पर लड़ेगी। पार्टी शिक्षित  युवाओं  को मौका देगी।

 

 

हिमाचल हमारी जन्मभूमि है इसे सुरक्षित रखना हम सबका फ़र्ज़ है

जाति ,समाज और धर्म के नाम पर बाँटने वालो को कौन  रोकेगा ,

उन्हें आपके संस्कार रोकेंगे और नई पीढ़ी रोकेगी।

आप अपने बच्चों को सिविल परीक्षा या सेना में देश सेवा के लिए भेजते है ,

आप में से कोई अपने बच्चों को राजनीती में आकर देश सेवा के लिए क्यों नहीं भेजता।