मंडी जिला की थाची पीएचसी में महिला डाक्टर से छेड़छाड़ और मारपीट के विरोध पर जिला के सभी अस्पतालों में डाक्टरों ने दो घंटे की पेनडाउन स्ट्राइक की। इस दौरान एमर्जेंसी के अलावा किसी भी ओपीडी में मरीज नहीं देखे गए।

दूसरी तरफ बीएमओ घुमारवी के निलंबन ने आग में घी का काम किया है जहां बिना किसी जांच के बीएमओ को निलंबित कर दिया गया। संघ ने आगे कहा कि आज पूरे

प्रदेश के चिकित्सा संस्थानों ने पेन डाउन किया है लेकिन कल 20 जून से पूरे प्रदेश के मेडिकल कॉलेज की आरडीए भी पेन डाउन स्ट्राइक में हिस्सा लेंगी। संघ ने आगे

कहा कि अगर आंदोलन को और तेज करने की जरूरत पड़ी तो इसे और तेज किया जाएगा।

Desk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here