जिला कुल्लू में तूफान ने उड़ाई घरों व दुकानों की छत।

जिला कुल्लू में सोमवार शाम अचानक मौसम ने करवट बदली और तेज तूफान व अंधड़ के साथ बारिश का दौर भी शुरू हो गया। लेकिन तेज तूफान व अंधड़ के चलते यहां लोगों को भी खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। कुल्लू व साथ लगते इलाकों में जहां कई घरों व दुकानों की क्षति भी इस से उड़ गई तो फलदार पेड़ों को भी से खासा नुकसान पहुंचा है।

वही गांधीनगर से लेकर ढालपुर तक भी सड़क किनारे कई पेड़ों की टहनियां तेज तूफान के चलते टूट गई। जिससे यहां लोगों को आने जाने में भी खासी परेशानियां पेश आई। इसके अलावा कुछ जगह पर पेड़ों की टहनियां गिरने से मोटरसाइकिल व स्कूटी को भी नुकसान हुआ है और हलान दो पंचायत में भी एक पेड़ गाड़ी के ऊपर टूट कर गिर गया।

बता दें कि अचानक आए इस तूफान के चलते कुल्लू के पारला भुंतर, बंजार सहित अन्य इलाके में सेब व पलम के पेड़ों को भी इससे नुकसान हुआ है। इससे पहले भी तूफान के चलते बागवानों को खासे नुकसान का सामना करना पड़ा था। ऐसे में एक बार फिर से प्रकृति के रौद्र रूप से किसानों को काफी हानि हुई हैं। स्थानीय किसान हरीश, दिनेश, लाल सिंह का कहना है कि लगातार कुछ समय से शाम के समय तूफान व अंधड़ चल रहा है जिससे उन्हें खासा नुकसान उठाना पड़ रहा है। ऐसे में बागवानी विभाग भी पूरे इलाके का सर्वे करें और फलदार पेड़ों के चलते जो नुकसान हो रहा है। उसका मुआवजा भी किसानों व बागवानों को दिया जाना चाहिए।