रोहतक में युवक को पानीपत जेल से मिली धमकी, हत्या के केस में है गवाह।

रोहतक में एक युवक को पानीपत जेल से जान से मारने की धमकी मिली है। युवक एक हत्या के केस में गवाह है। कॉल करने वाले ने कहा कि अगर हत्या के केस में पानीपत कोर्ट में गवाही दी तो जान से मार देंगे। पीड़ित ने एसपी को शिकायत देकर सुरक्षा की मांग की है। पुलिस ने धमकी देने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीड़ित मोखरा गांव का निवासी मंजीत है।

पुलिस के तेज काॅलोनी निवासी मंजीत मोखरा ने दी शिकायत में बताया कि वह पिछले साल समालखा थाना एरिया में हुई हत्या के मामले में गवाह है। 11 जुलाई को पानीपत कोर्ट में उसकी गवाही होनी है। 14 जून को उसके पास पानीपत जेल से फोन आया। फोन करने वाले ने कहा कि हत्या के केस में गवाही मत देना। अगर तू केस में गवाह बना तो तेरे परिवार को खत्म कर देंगे। तेरी इसी में भलाई है तु हमारी बात मान जा।

पीड़ित का कहना है कि केस में आरोपी नितेश पानीपत जेल में बंद है। उसके जेल के अंदर व बाहर असामाजिक तत्वों से संबंध हैं। वह पैसे के बल पर कुछ भी करवा सकता है। ऐसे में पानीपत कोर्ट में गवाही के दौरान उसे सुरक्षा दी जाए। अगर उसके परिवार के साथ कुछ होता है तो प्रशासन की जिम्मेदारी रहेगी। पुरानी सब्जी मंडी थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इसके लिए नंबर की डिटेल निकाली जा रही है। थाना प्रभारी सतपाल का कहना है कि किसी को कानून हाथ में लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

मामले के अनुसार पुलिस रिकाॅर्ड के मुताबिक जून 2022 में रोहतक के एक व्यक्ति ने समालखा थाने में शिकायत दी थी कि उसकी बेटी ने रोहतक की जनता काॅलोनी के युवक नितेश से प्रेम विवाह किया था। इसका उन्हें बाद में पता चला। लड़के के परिजनों ने जातीय कारण से उसकी बेटी को अपनाने से इन्कार कर दिया। जबकि उन्होंने विवाह को स्वीकृति दे दी। इसके बाद लड़का व लड़की वैवाहिक जीवन जीने लगे।

बाद में उसकी बेटी को दामाद तंग करने लगा। 30 मई 2022 को दामाद का फोन आया कि उनकी कार नामुंडा नहर में गिर गई है। वह और उसके ताऊ का लड़का तो बच गए, लेकिन उसकी पत्नी पानी में डूब गई। लड़की के परिजन मौके पर पहुंचे, लेकिन कार में लड़की का शव नहीं मिला। बाद में पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया।