शिमला में माल रोड के समीप होटल ग्रैंड की पुरानी बिल्डिंग में गत रात्रि भयंकर आग लग गई और यह ऐतिहासिक धरोहर धूं-धूं कर जल गई।

होटल के करीब 20 कमरे खाक हुए हैं। फिलहाल किसी तरह के जानी नुकसान की सूचना नहीं है।

आग इतनी भयंकर थी कि इसकी लपटें दूर-दूर तक देखी गईं। होटल का गेट तंग होने के कारण दमकल वाहनों को अंदर दाखिल होने में परेशानी हुई।

अग्निशमन कर्मियों को आग पर काबू पाने में चार से पांच घण्टे लग गए। अहम बात यह है कि आग से राख हुआ यह होटल केंद्र सरकार का अतिथि गृह है।

और शिमला की ऐतिहासिक धरोहरों में एक है। आग की जद में आई होटल की पुरानी बिल्डिंग लकड़ी की बनी हुई थी।

और निर्माण कार्य के चलते होटल खाली था। इसके बगल में ही होटल की नई बिल्डिंग है,जिसे कि सुरक्षित बचा लिया गया।

अग्निशमन केंद्र माल रोड से मिली जानकारी के मुताबिक मध्यरात्रि को होटल में भयंकर आग लगने की सूचना मिलने के बाद पांच से अधिक छोटे व बड़े दमकल वाहन मौके पर रवाना किये गए।

सुबह चार बजे के करीब आग को पूरी तरह से बुझा लिया गया। अग्निकांड की इस घटना से शहर में हड़कम्प मच गया और अन्य होटलों में रहने वाले सैलानी भी सहम गए।

उपायुक्त राजेश्वर गोयल ने भी घटनास्थल का दौरा कर हालात का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि अग्निकांड में कोई हताहत नहीं हुआ है। आग किस कारण से लगी फिलहाल इसकी जांच की जा रही है।राजधानी में इससे पहले भी कई ऐतिहासिक धरोहरें आग से खाक हुई हैं।

Desk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here