राजभवन शिमला में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस आयोजित।

????????????????????????????????????

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज राजभवन शिमला में आयुष विभाग एवं हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला के योग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के योग विभाग के प्रोफेसर डॉ. सत्य प्रकाश की अगुवाई में राजभवन के कर्मचारियों ने योगाभ्यास किया। राज्यपाल ने भी योग क्रियाएं कीं।
इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि योग के माध्यम से हमारी समृद्ध परम्पराएं विश्व के समक्ष उजागर हुई हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने प्रभावी प्रयासों से इस विधा को विश्व के समक्ष रखा और यह समझाया कि यह किसी धर्म अथवा पूजा पद्धति से सम्बद्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि योग हमें शारीरिक एवं आत्मिक शांति प्रदान कर सुदृढ़ बनाता है। उन्होंने कहा कि हमें योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए।
राज्यपाल ने कहा कि अगर हम अपनी विशिष्टताओं को भूला देंगे तो कभी भी विश्वगुरू नहीं बन सकते। हमें अपनी परम्पराओं को संजोए रखना चाहिए।
इससे पूर्व डॉ. सत्य प्रकाश ने राज्यपाल को अपनी पुस्तक ‘हठ योग के आधार एवं प्रयोग’ भेंट की। उन्होंने आयुष विभाग की एक सीडी और ‘योग संहिता’ भी राज्यपाल को भेंट की। राज्यपाल ने हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के योग विभाग के प्रथम न्यूज़लेटर का भी विमोचन किया। उन्होंने गैर संचारी रोगों के लिए योग प्रबन्धन विषय पर एक पुस्तिका भी जारी की।
इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव राजेश शर्मा ने भी सम्बोधन किया।