प्रदेश के भदरोआ में एक युवक की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। बुधवार शाम को वह बिना बताए घर से कहीं चला गया था। इसके बाद उसके घर वाले उसे ढूंढ-ढूंढकर परेशान थे, वहीं आज उसका शव अपने ही खेत में मिला। परिजनों का आरोप है कि सेना में भर्ती होले के चलते किसी ने रंजिशन उसकी जान ली है। सूचना के बाद फिलहाल पुलिस ने शव को मोर्चरी भिजवाकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

मृतक युवक की पहचान गांव ठाकुरद्वारा के प्रदीप कुमार पुत्र दविंद्र सिंह के रूप में हुई है। पुलिस को दिए बयान में उसके पिता दविंद्र सिंह ने बताया कि प्रदीप ने सेना भर्ती के लिए ग्राउंड टेस्ट पास कर लिया था और लिखित परीक्षा की तैयारी कर रहा था। बुधवार शाम को प्रदीप खाना खाकर बिना बताए कहीं बाहर चला गया। काफी देर तक घर नहीं लौटा तो उसके मोबाइल पर कॉल किया, लेकिन नंबर बंद आ रहा था। दविंद्र ने बताया कि वो पशुओं को खेत में बांधते हैं। वहां मोटर के लिए कमरा भी बनाया है। जब रात में वह खेत में गए तो मोटर के कमरे के बाहर चारपाई पर प्रदीप मृत पड़ा था। उसका चेहरा नीला पड़ गया था। ग्रामीणों ने सूचना दी तो इंदौरा पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी।

दविंद्र ने आशंका जताई है कि उसके बेटे की हत्या की गई है। हालांकि बेटे की किसी के साथ रंजिश भी नहीं थी, लेकिन अब सेना में सिलेक्ट होने के कारण हो सकता है कि किसी ने जलन में उसे खेत में बुलाकर हत्या कर दी हो। प्रदीप के शरीर पर नीले निशान थे, जिससे मारपीट के बाद हत्या की आशंका को बल मिल रहा है। उधर, पुलिस थाना इंदौरा के प्रभारी सुरिंद्र धीमान ने बताया कि परिजनों के बयान दर्ज कर शव पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल नूरपुर भेज दिया है।