हर विधानसभा क्षेत्र में विकसित होगा आदर्श स्वास्थ्य संस्थान : कर्नल डॉ. धनी राम शांडिल

हिमाचल दिवस पर स्वास्थ्य, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, श्रम एवं रोजगार मंत्री ने हमीरपुर में फहराया राष्ट्रीय ध्वज

हमीरपुर 15 अप्रैल। 76वां हिमाचल दिवस हमीरपुर में भी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस उपलक्ष्य पर ब्वायज सीनियर सेकेंडरी स्कूल हमीरपुर के मैदान में आयोजित जिला स्तरीय समारोह में स्वास्थ्य, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, श्रम एवं रोजगार मंत्री कर्नल डॉ. धनी राम शांडिल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। इस परेड में हिमाचल प्रदेश पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एंड गाइड्स और स्वास्थ्य कर्मचारियों की टुकडिय़ों ने शानदार मार्च पास्ट किया।
इस अवसर पर सभी जिलावासियों को बधाई देते हुए कर्नल डॉ. धनी राम शांडिल ने कहा कि देश को आज़ादी मिलने के 8 माह बाद 15 अपै्रल 1948 को 30 छोटी-बड़ी पहाड़ी रियासतों के विलय के साथ हिमाचल प्रदेश का गठन किया गया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री डॉ. यशवंत सिंह परमार और अन्य स्वतंत्रता सेनानियों ने हिमाचल को विशेष पहचान तथा अलग राज्य का दर्जा दिलवाने में बहुत बड़ी भूमिका अदा की थी।
उन्होंने कहा कि 11 दिसम्बर 2022 को नई सरकार के गठन के साथ ही हिमाचल प्रदेश में एक नए युग का सूत्रपात हुआ है। नव वर्ष के तोहफे के तौर पर प्रदेश सरकार ने 101 करोड़ रुपये के शुरुआती प्रावधान के साथ मुख्यमंत्री सुख-आश्रय कोष की स्थापना की। प्रदेश सरकार ने पहली कैबिनेट बैठक में ही एक लाख 36 हजार सरकारी कर्मचारियों को ओपीएस के तहत लाने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है। 2 लाख 31 हजार महिलाओं को 1500 रुपये पेंशन देने के साथ-साथ विधवाओं एवं 40 से 69 प्रतिशतता वाले दिव्यांगजनों को पेंशन के लिए आय सीमा एवं ग्राम सभा से अनुमति की शर्त समाप्त कर दी है। विधवाओं और एकल नारियों को मकान बनाने के लिए मुख्यमंत्री विधवा एवं एकल नारी आवास योजना आरंभ की जा रही है। प्रदेश को वर्ष 2026 तक ग्रीन एनर्जी स्टेट के रूप में विकसित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सा महाविद्यालयों में रोबोटिक सर्जरी और अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं आरंभ की जा रही हैं तथा प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक स्वास्थ्य संस्थान को आदर्श स्वास्थ्य संस्थान के रूप में विकसित किया जाएगा तथा डे-बोर्डिंग स्कूल खोले जाएंगे। प्रदेश में दूध आधारित व्यवस्था को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपए की हिम गंगा योजना भी आरम्भ की जा रही है।
उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार इस वर्ष विभिन्न विभागों के 25 हजार क्रियाशील पदों को भरेगी। पर्यटन, ऊर्जा, निर्माण, आवास जैसे क्षेत्रों में लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का निजी निवेश लाने के प्रयास किए जाएंगे, जिससे लगभग 90 हजार प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रोजग़ार के अवसर पैदा होंगे। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने मनरेगा दिहाड़ी 212 रुपये से बढ़ाकर 240 रुपये की है। पंचायती राज संस्थाओं व स्थानीय नगर निकायों के प्रतिनिधियों तथा विभिन्न विभागों में कार्यरत पैरा वर्कजऱ् के मानदेय में भी वृद्धि की है।
छोटे दुकानदारों व व्यापारियों को 50 हजार रुपये तक के ऋण पर लगने वाले ब्याज का 50 प्रतिशत उपदान देने के लिए मुख्यमन्त्री लघु दुकानदार कल्याण योजना आरम्भ की जाएगी। ठेकों की पारदर्शी नीलामी प्रक्रिया के कारण पिछले वर्ष की तुलना में, इस बार 40 प्रतिशत अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है।
कर्नल डॉ. धनी राम शांडिल ने कहा कि डॉ. राधाकृष्णन राजकीय मेडिकल कालेज के लिए जोल सप्पड़ में लगभग 380 करोड़ रुपये की लागत से नए कैंपस का निर्माण तेजी से करवाया जा रहा है। इस कार्य को गति प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार ने 40 करोड़ रुपये की धनराशि जारी की है। मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार यहां नर्सिंग कॉलेज, कैंसर यूनिट और अन्य आधुनिक चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। उन्होंने बताया कि जिला हमीरपुर में 48 हजार 537 लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जा रही है। औद्योगिक क्षेत्र रिट में दो बड़ी इकाईयों को 5 प्लॉट आवंटित किए गए हैं, जिनमें अमूल दूध प्रसंस्करण एवं डाटा सेंटर की स्थापना के लिए लगभग 470 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है।
इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री ने सामाजिक कार्यों में सराहनीय योगदान देने के लिए सहारा युवा क्लब रोपा, जय भीम युवा मंडल समिति बटराण और युवा कला मंडल भ्याड़ को युवा सेवाएं एवं खेल विभाग की ओर से प्रथम तीन पुरस्कारों के रूप में क्रमश: 51 हजार, 31 हजार और 21 हजार रुपये की राशि प्रदान की। उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों, जिला स्तरीय समारोह की परेड और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रतिभागियों को भी पुरस्कृत किया।
जिला स्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार सुनील शर्मा बिट्टू, विधायक इंद्र दत्त लखनपाल, राजेंद्र राणा, सुरेश कुमार और आशीष शर्मा, कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया, पूर्व विधायक अनीता वर्मा, डॉ. पुष्पेंद्र वर्मा, कांग्रेस के पदाधिकारी, डीसी हेमराज बैरवा, एसपी डॉ. आकृति शर्मा और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।