डी॰ डी॰ एम॰ साई कालेज कल्लर जलाड़ी में श्री मद भगवद गीता के ऊपर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन।

डी॰ डी॰ एम॰ साई कालेज कल्लर जलाड़ी में श्री मद भगवद गीता के ऊपर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस राष्ट्रीय संगोष्ठी की अध्यक्षता प्रो॰ (डाॅ॰) शैलेन्द्र प्रसाद उनियाल (केन्द्रिय संस्कृत विश्व विद्यालय, श्री रघुनाथ कीर्ति परिसर, देव प्रयाग उत्तराखण्ड) द्वारा की
गई । इस कार्यक्रम में सबसे पहले डाॅ॰ ओ पी भरद्वाज जी ने गीता के महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर प्रकाश डाला।

इसके बाद प्रो॰ (डाॅ॰) शैलेन्द्र प्रसाद उनियाल जी ने आॅनलाईन माध्यम से जुड़े जिन्होने प्रशिक्षुओं को सम-हजयाया कि गीता कैसे उनके व्यक्तित्व को निखार सकती है। इसके पश्चात कालेज के प्रशासनिक अधिकारी श्री राजेश
कपिल जी ने विद्यार्थियों को मन के नियन्त्रण पर सु-हजयाव दिए। इसके पश्चात डाॅ॰ विश्वमोहन, श्री करतार सिहं , श्री देश बन्धु शर्मा, डाॅ॰ सुनील कौशल, डाॅ॰ अमित शर्मा, श्री नरेश मलोटिया जी ने विद्यार्थी जीवन में श्री मद भगवद गीता की उपयोगिता तथा इन्द्रियों पर नियन्त्रण में सहायक गीता के महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा की।

इसके बाद प्रो॰ रतन चंद शर्मा (सेवानिवृत एन॰ एस॰ सी॰ वी॰ एम॰ पी॰ जी॰ कालेज हमीरपुर ) गीेता साधकों के प्रश्नों का निवारण किया । अन्त में एडवोकेट भुवनेश शर्मा जी ने सभी वक्ताओं का धन्यवाद किया।