मानसून के दौरान आपदा प्रबन्धन तैयारियों की समीक्षा बैठक आयोजित।

निदेशक एवं विशेष सचिव राजस्व व आपदा प्रबंधन सुदेश मोक्टा ने आज यहां आगामी मानसून मौसम में आपदा प्रबंधन से संबंधित विभिन्न तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता की।
बैठक में सुदेश मोक्टा ने सभी संबंधित विभागों और एजेंसियों को मानसून के दौरान आपदा प्रबंधन से संबंधित तैयारियां समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए।
उन्होंने सभी अधिकारियों को आपसी समन्वय से कार्य करने के निर्देश देते हुए कहा कि आपदा प्रबंधन के लिए सभी विभागों एवं एजेंसियों के मध्य आपसी समन्वय और सूचनाओं को समय पर सांझा करना सबसे महत्वपूर्ण होता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जिन स्थानों पर भूस्खलन की संभावना अधिक होती है उन्हें चिन्हित कर आवश्यक तैयारियां पूर्ण की जाएं।
उन्होंने लोक निर्माण विभाग को भूस्खलन संभावित क्षेत्रों में पर्याप्त संख्या में मशीनें तैनात करने के निर्देश दिए। उन्होंने मौसम विभाग को नाऊ कास्ट, मौसम से संबंधित बुलेटिन, फ्लैश फ्लड मार्गदर्शन व चेतावनी इत्यादि समयबद्ध जारी करने को कहा। उन्होंने जल शक्ति विभाग को निर्बाध व स्वच्छ पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित बनाए रखने के लिए सभी तैयारियां पूर्ण करने को कहा।
उन्होंने सभी जिलों में आपातकालीन संचालन केंद्रों को पूर्णतया कार्यशील करने, सचेत पोर्टल के उपयोग, आवश्यक खाद्य वस्तुओं के भंडारण, मुरम्मत तथा निवारण से संबंधित विभिन्न कार्य भी समयबद्ध पूर्ण करने के लिए निर्देश दिए। बैठक में विभिन्न विभागों तथा एनडीआरएफ के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे, जबकि विभिन्न जिलों के उपायुक्त वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।