दुनिया भर में आतंकी गतिविधियों के लिए कुख्यात पाकिस्तान अभी भी अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। गुरुवार और शुक्रवार की दरमियानी रात पाक रेंजर्स ने एलओसी पर गोलीबारी की। बताया जा रहा है कि यह फायरिंग बृहस्पतिवार दोपहर से शुरू हुई थी। हालांकि, भारतीय सुरक्षाबलों की ओर से भी करारा जवाब दिया गया। भारत ने काउंटर में पड़ोसी मुल्क के पांच फौजियों को ढेर कर दिया, जबकि उसके तीन से चार सैनिक जख्मी बताए जा रहे हैं।

आम नागरिक थे निशाने पर!: सुरक्षाबलों से जुड़े सूत्रों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि पुंछ जिले में एलओसी के पास मनकोट सेक्टर में आम नागरिकों को निशाना बनाते हुए पाकिस्तान की ओर से उकसावे वाली फायरिंग और शेलिंग की गई। इस दौरान लोगों की संपत्तियों को नुकसान पहुंचा है। बताया जा रहा है कि पांच पाकिस्तानियों को ढेर करने के अलावा भारत के मुंहतोड़ जवाब में पड़ोसी मुल्क की सेना के कई बंकर भी ध्वस्त कर दिए गए।

मंत्रिमंडल की बैठक के बाद लागू हो जाएगी हिमाचल में चुनाव…

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर के नूरबाग इलाके में आतंकवादियों ने शुक्रवार को केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के शिविर पर एक ग्रेनेड फेंका। पुलिस ने समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा को बताया कि हमले में कोई हताहत नहीं हुआ है। एक पुलिस अधिकारी ने आगे कहा- आतंकवादियों ने सुबह छह बजकर 40 मिनट पर शिविर में ग्रेनेड फेंका। ग्रेनेड शिविर के बाहर फटा और इसमें एक कुत्ता मारा गया।

किसान आंदोलन का जवाब देने का बीजेपी ने बनाया मेगा प्लान।

जनवरी, 2020 से खबर लिखे जाने तक पाकिस्तान की ओर से LoC पर या उसके आस-पास करीब 3200 बार सीजफायर उल्लंघन हो चुका है। इनमें 30 नागरिकों की मौत हो चुकी है, जबकि 100 से अधिक जख्मी हुए हैं। पाकिस्तान की ओर से ऐसा बार-बार तब किया जा रहा है, जब उसने साल 1991 में सीजफायर उल्लंघन को लेकर भारत के साथ समझौते पर दस्तखत किए थे।