मॉडल स्कूल देवधारर की प्रीति वर्मा ने हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की दसवीं कक्षा की परीक्षा में प्रदेश भर में झटका तीसरा स्थान। स्वजनों में खुशी की लहर।

मॉडल स्कूल देवधारर की प्रीति वर्मा ने हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की दसवीं कक्षा की परीक्षा में प्रदेश भर में झटका तीसरा स्थान। स्वजनों में खुशी की लहर।

उपमण्डल धर्मपुर के मॉडल इंस्टीट्यूट ऑफ एडुकेशन की दसवीं कक्षा में प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की परीक्षा में 98.78 % अंक लेकर पूरे प्रदेश में 9वां स्थान हासिल किया है। प्रीति वर्मा जो क्षेत्र के गांव हिउन गांव से संबंध रखती है के पिता राजेंद्र सिंह का देहांत बचपन में ही हो गया था और इनकी पढ़ाई और लालनपालन का ज़िमा इनकी माता ने ही उठाया है।

स्कूल के प्रधानाचार्य दीनानाथ ठाकुर ने बताया कि प्रीति आरभ से ही होनहार छात्रा रही हैं और बहुत ही मृदुभाषी और अनुशासन प्रिय हैं।वह प्रथम कक्षा से लेकर अब तक अपनी कक्षा में पहले स्थान पर आती रही हैं।प्रीति वर्मा ने बताया कि वह आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती है और रोगियों की सेवा करना चाहती है।उसने यह भी बताया कि वह प्रति दिन 8 से 9 घण्टे पढ़ाई करती थी और उसके बाद घर में अपनी मां की घरेलू कामों में सहायता करती है।स्कूल के प्रिंसिपल दीनानाथ ने प्रीति वर्मा के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।प्रीति अपनी सफलता का श्रेय अपनी माता और गुरुजनों को देती हैं। सारे क्षेत्र को अपनी इस होनहार बेटी पर गर्व है।