सोलन में बसाल में कई दिनों से जंगल में आग लगी हुई थी. सोमवार को यह आग परसकर रिहायशी इलाकों तक पहुंच गई और एक घर पूरी तरह से आग की चपेट में आ गया. घर के भीतर एक अकेली महिला थी. लोग घर के बाहर खड़े थे, लेकिन आग इतनी तेज थी कि अंदर जाने की हिम्मत कोई भी जुटा नहीं पा रहा था. एक दिलेर

व्यक्ति विवेक ने घर तक जाने का प्रयास किया लेकिन वह भी कुछ दूर तक ही जा सका और सांस घुटने से वह भी बेहोश हो कर गिर पड़ा. लोगों ने बड़ी मशक्कत के

साथ उस व्यक्ति को बाहर निकाला. इतनी ही देर में घर के अंदर धुआं बढ़ता जा रहा था सांस लेना भी मुश्किल हो चला था इसलिए महिला ने हिम्मत जुटाई और अपने

कुत्ते के साथ घर से बाहर निकल गई . इस क्रम में महिला करीब 20 फीसदी झुलस गई. आग की सूचना मिलने के दो घंटे बाद दमकल विभाग की गाड़ी पहुंची तब तक स्थानीय लोगों की मदद से बुझाई जा चुकी थी.

महिला ने रोष प्रकट करते हुए बताया कि दमकल विभाग दो घंटे देरी से पहुंचा तब तक आग अपना तांडव दिखा चुकी थी और वह आग से बुरी तरह से झुलस चुकी थी. उन्होंने मांग की है कि जंगलों में जो भी व्यक्ति आग लगाता है, उस पर सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लानी चाहिए ताकि भविष्य में एसी नौबत किसी पर न आए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here