ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड के रोकने पर भी नहीं रुके साहब, लोगों ने व्यवस्था पर उठाए सवाल।

हमीरपुर स्थित गांधी चौक में मंगलवार दोपहर कुछ ऐसा ही वाकया सामने आया जब एक पुलिस कर्मी नो एंट्री जोन में ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड कर्मी को यह कहकर एंट्री कर गया कि यह एरिया हमारे ही थाने का है। हालांकि होमगार्ड ने उन्हें रोकते हुए कहा कि दोपहर 2:30 से 3:30 बजे तक इस एरिया में वाहनों की एंट्री प्रतिबंधित है। लेकिन फिर भी खाकी पहने दोपहिया पर सवार पुलिस कर्मी बिना किसी की परवाह किए बाजार के बीचोंबीच निकल गया।

उसके जाते ही आसपास के दुकानदारों में यह चर्चा छिड़ गई कि यह कैसे नियम बनाए गए हैं कि आम आदमी की इस समय अवधि के दौरान एंट्री प्रतिबंधित रखी गई है, जबकि वर्दी की धौंस दिखाकर ऐसे लोग नियम तोड़ रहे हैं। गांधी चौक से लेकर सब्जी मंडी मार्केट तक का मार्ग वन-वे तय किया गया है।

आपको बता दें कि केवल गांधी चौक से ही नीचे की तरफ वाहन जा सकते हैं। इन नियमों की गांधी चौक पर तैनात होमगार्ड कर्मी सख्ती से पालना भी करवाते हैं और कई बार ट्रैफिक पुलिस वन-वे का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के चालान भी काट चुकी है। अब यह बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि क्या नियम सिर्फ आम जनता के लिए ही है या फिर महकमे के कर्मचारियों के नियम तोडऩे पर भी कार्रवाई होती है। मंगलवार को पेश आए इस वाक्य के बाद व्यवस्थाओं पर लोगों ने सवाल उठाए हैं,

वहीं इस बारे में पुलिस अधीक्षक हमीरपुर डा आकृति शर्मा का कहना है कि मामले की जांच की जाएगी। नियम सभी के लिए बराबर है तथा इनका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होती है। यदि किसी पुलिस कर्मी ने नियम तोड़ा है तो उसके खिलाफ भी नियमानुसार कार्रवाई अवश्य होगी।