एसजेवीएन कार्यालय भवन शक्ति सदन शिमला पहला फोर स्टार ग्रि‍हा (GRIHA)रेटिंग।

प्राप्त करने वाला हिमाचल प्रदेश का पहला भवन बना

शिमला: 24 जून, 2022- श्री नन्‍द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन ने अवगत कराया कि एसजेवीएन के कारपोरेट मुख्यालय ‘’शक्ति सदन’’ को ग्रीन रेटिंग के लिए एकीकृत आवास मूल्यांकन “ग्रि‍हा” परिषद ने द्वारा फोर स्टार प्रदान किया है। उन्होंने आगे कहा कि यह प्रत्येक एसजेवीनाइट के लिए गर्व का क्षण है क्योंकि शक्ति सदन यह रेटिंग प्राप्त करने वाला हिमाचल प्रदेश का पहला भवन है।

यह रेटिंग रेटिड भवनों की ऊर्जा दक्षता, वेस्‍ट मिनीमाईजेशन तथा नवीकरणीय ऊर्जा को प्रतिदिन के क्रियाकलापों में उपयोग करने के आधार पर दी जाती है । श्री नन्‍द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक ने आगे बताया कि शक्ति सदन को ग्रीन बिल्डिंग कॉन्सेप्ट के साथ डिजाइन किया गया है। 500 से अधिक कर्मचारियों के लिए 15200 वर्ग मीटर के
निर्मित क्षेत्र के साथ इस इमारत में और कई अनूठी विशेषताएं हैं जिनमें ऊर्जा आवश्‍यकताओं की पूर्ति के लिए 120 किलोवाट सौर ऊर्जा प्रणाली तथा 40 किलोवाट सोलर वाटर हीटिंग प्रणाली शामिल है। भवन में 90,000 लीटर अपशिष्ट जल को रिसाईकल करने की क्षमता वाला एक सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट भी स्थापित किया गया है। कार्यालय परिसर में ठोस जैविक अपशिष्ट प्रबंधन के लिए 250 किलोग्राम प्रतिदिन की क्षमता वाली कंपोस्टिंग मशीन और जल संरक्षण के लिए वर्षा जल संचयन प्रणाली भी है, जो 50,000 लीटर वर्षा जल को संग्रहित कर सकती है। शक्ति सदन में अति आधुनिक आईटी उपकरण भी लगाए गए हैं जो एसजेवीएन को अपने साझा विजन यथा वर्ष 2023 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 25000 मेगावाट तथा वर्ष 2040 तक 50000 मेगावाट का लक्ष्‍य प्राप्‍त करने
में सक्षम बनाएंगे ।

ग्रिहा रेटिंग, ऊर्जा खपत, अपशिष्ट उत्पादन, नवीकरणीय ऊर्जा अपनाने आदि जैसे पहलुओं की जांच करती है ताकि इसे संभव सीमा तक प्रबंधित अथवा नियंत्रित या कम किया जा सके। ग्रिहा (GRIHA) राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य बेंचमार्क के भीतर भवन के संसाधन खपत, अपशिष्ट उत्पादन
और समग्र पारिस्थितिक प्रभाव को कम करने का प्रयत्‍न करती है।