खो चुके जनाधार की हताशा में कुछ भी कह रहे हैं मुख्यमंत्री : जयराम ठाकुर

शिमला : नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने शिमला से जारी बयान में कहा कि सरकार पूरी तरह से तानाशाही पर उतर आई है। भारतीय जानता पार्टी के नेताओं को टारगेट किया जा रहा है। मुख्यमंत्री प्रदेश के लोगों द्वारा कांग्रेस को पूरी तरह नकार देने के कारण हताशा में हैं इसलिए वह इधर-उधर की बातें कर रहे हैं। यह सरकार पूरी तरह से नाकाम हो गई है। लोगों सिर्फ़ परेशान करने के अलावा कोई काम नहीं कर रही है। आज प्रदेश में हर व्यक्ति सरकार से निराश हैं। रोज़गार से लेकर विकास के मामले में यह सरकार पिछली सरकार के कामों को एक कदम भी आगे नहीं बढ़ा पाई है। एक भी युवा को रोज़गार नहीं दे पाई है। यह सरकार सिर्फ़ अपने मित्रों के लिए काम कर रही है। उन्हीं का भला करने में व्यस्त है। यह सरकार सिर्फ़ मित्रों के लिए समर्पित सरकार है। जिसका आम आदमी के हितों से कोई लेना देना नहीं है। इस बार के उपचुनाव में भी प्रदेश के लोग इस सरकार को सबक़ सिखाने के लिए तैयार बैठे हैं।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि यह सरकार सत्ता के दुरुपयोग से विपक्ष को परेशान कर रही है। मुख्यमंत्री निर्दलीय विधायकों को पहले समर्थन के लिए प्रताड़ित करते रहे और जब वे इस्तीफ़ा देकर चुनाव लड़ रहे हैं तो भी उन्हें परेशान किया जा रहा है। उनके ख़िलाफ़ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री यह सरकार झूठ बोलके चलाना चाह रहे हैं। झूठ के भरोसे चुनाव लड़ रहे हैं। मुख्यमंत्री यह भूल रहे है कि झूठ की उम्र बहुत लंबी नहीं होती। भाजपा प्रत्याशियों के ख़िलाफ़ कर रहे दुष्प्रचार लिए उन्हें न्यायालय में जवाब देना होगा। भाजपा के प्रत्याशियों को फ़र्ज़ी मुक़दमों में फ़साने की कोशिश हो रही है, प्रदेश का पूरा तंत्र अपनी पूरी शक्ति भाजपा के प्रत्याशियों को परेशान करने में लगा रहा है जबकि प्रदेश में क़ानून व्यवस्था पूरी तरह से रसातल में चली गई है। दिन दहाड़े गोलियां चल रही हैं। प्रदेश में भाड़े के शूटर कोर्ट परिसर में ही तांडव मचा रहे हैं। क्या मुख्यमंत्री प्रदेश में अपराधियों के इस तरह के बोलबाले को ही व्यवस्था परिवर्तन कह रहे हैं।

नेता प्रतिपक्ष ने भारतीय जनसंघ के संस्थापक स्व० डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि एक विधान, एक प्रधान और एक निशान के लिए अपना बलिदान करने वाले स्व० श्यामा प्रसाद मुखर्जी हमारी प्रेरणा का स्रोत हैं।  जिस लक्ष्य लिए उन्होंने अपना बलिदान दिया उसे भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हासिल किया।  जयराम ठाकुर ने हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री स्व० वीरभद्र सिंह की जयंती पर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए  कहा कि हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए उनका योगदान अविस्मरणीय हैं। उसे सदैव याद रखा जाएगा।