किसान आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात कार्यक्रम के जरिए देशवासियों से बात कर रहे हैं। मन की बात का यह 73वां एपिसोड है। खास बात यह है कि वर्ष 2021 का यह पहला मन की बात कार्यक्रम है। मन की बात कार्यक्रम ऐसे समय हो रहा है, जब गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में हिंसा हुई और दो महीने से ज्यादा वक्त से चल रहे किसान आंदोलन को लेकर माहौल गर्म है। माना जा रहा है कि पीएम मन की बात के जरिए किसानों पर भी बात कर सकते हैं। वहीं, सोमवार को संसद में बजट पेश किया जाना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को एक ट्वीट में कहा, ‘कल, 31 जनवरी को सुबह 11 बजे। मन की बात’। मन की बात का प्रसारण आकाशवाणी के साथ-साथ दूरदर्शन पर सुबह 11 बजे से होगा। इसके अलावा यह नरेंद्र मोदी ऐप पर भी उपलब्ध होगा। पीएम मोदी के ट्विटर हैंडल और फेसबुक पेज के जरिए भी इसे सुना जा सकता है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इस साल का पहला ‘मन की बात’ भी है।

मन की बात के 72वें एपिसोड में प्रधानमंत्री ने कहा था कि देश भर में भारत निर्मित उत्पादों की मांग तेजी से बढ़ रही है, जिसमें लोग ‘वोकल फॉर लोकल’ का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि साथियों, हमें वोकल फॉर लोकल की भावना को बनाये रखना है, बचाए रखना है, और बढ़ाते ही रहना है। आप हर साल न्यू ईयर रेजोल्यूशन लेते हैं, इस बार एक रेजोल्यूशन अपने देश के लिए भी जरुर लेना है। पीएम मोदी ने लोगों से स्थानीय उत्पादों का उपयोग करने और देश को प्लास्टिक से मुक्त बनाने की अपील भी की।