(संजीव राणा) हिमाचल ब्यूरो चीफ- बिलासपुर जिला मुख्यालय के बस स्टैंड के बाहर धौलरा रोड़ की सारी व्यवस्था बरसात की पहली बारिश ने धो कर रख दी।

दुकानदारों की परेशानी का आलम यह है कि वे सुबह से लेकर शाम तक दुकानों में घुसे पानी को बाहर निकालने में व्यस्त दिखे। रविवार को बिलासपुर में

जमकर मेघ बरसे जिस कारण नेशनल हाइवे का सारा पानी नीचे बहता हुआ डियारा सेक्टर में आया और धौलरा रोड़ पर बहता हुआ अपनी जगह बनाने

लगा। यहां पर जल निकासी नालियों के न होने के कारण यूं तो पानी सीधा बहता है लेकिन पानी की मात्रा अत्यधिक होने के कारण दोनों तरफ की दुकानों में घुस गया।

जिस कारण दुकानदारों का धंधा तो चौपट हुआ ही साथ ही सारा समय पानी दुकान से बाहर करने में निकल गया। वहीं दूसरी ओर इस जल भराव से आने-

जाने वाली गाडिय़ों से उठने वाला पानी राहगीरों पर गिरता रहा। इस बरसात से पूरी सडक़ में बड़े -बड़े गड्डे पड़ गए हैं। जो वाहन चालकों के लिए भी परेशानी का
सबब बन गया है। स्थानीय दुकानदारों में शामिल नरेश राणा, राजीव, मनीष, दीप, सैंडी, शंकर, रशीद, चमन लाल, आशु, राजू, रवि, अमित, गुड्डू, बॉबी,

बुद्धिराम, विकास, परवेज, अजय, सुमित, गुगलू, रिशु आदि ने बताया कि हालांकि यह समस्या बहुत पुरानी है, लेकिन रविवार को बरसात के पानी के कारण उन्हें भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है।

उन्होंने बताया कि इस बारे में हालांकि कई बार संबंधित विभाग को अवगत करवाया जा चुका है लेकिन स्थायी समाधन अभी नहीं हो पाया है। दुकानदारों का
कहना है कि बरसात के पानी पर जब वाहन गुजरते हैं तो गंदे पानी की छींटे दुकानों में आते हैं जिससे ग्राहकों को भी परेशानी होती है। दुकानदारों ने जिला

प्रशासन से मांग की है कि मौसम साफ होते ही इन गड्डों को भरा जाए तथा जल निकासी का प्रावधान किया जाए जिससे दुकानदारों की यह समस्या का स्थाई समाधान हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here