जिन उम्मीदों को लेकर जनता ने जताया उन्हीं उम्मीदों को निर्दलीय विधायक ने बेच डाला: डॉ पुष्पेंद्र वर्मा

हमीरपुर विधान सभा की जनता ने जिन उम्मीदों को लेकर निर्दलीय विधायक को जताया था, जनता की उन्हीं उम्मीदों को उसने बेच डाला। अब केवल झूठ बोलकर अपनी राजनीतिक महत्वकांक्षाओं को पूरा करने की कोशिश कर रहे है। ये बात कांग्रेस प्रत्याशी डॉ पुष्पेंद्र वर्मा ने क्षेत्र के बालू, अमनेड़, राहजोल, बढार, कपोटी, ककोण, बुमाणा, जलग्रां, चौकी, कनकरी, कद्रियाणा, डिडवीं, टिक्कर एवं समराला में आयोजित नुक्कड़ जनसभाओं के दौरान कही। उन्होंने कहा कि निर्दलीय रहे विधायक की महत्वकाक्षांओं को स्थानीय जनता अब भली भांति जान चुकी है। जो अपने जिला के मुख्यमंत्री के खिलाफ चल कर झूठ पर झूठ बोलता रहे उस व्यक्ति को स्थानीय जनता भी सहन नहीं कर पाएगी। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का दामन थामकर वे चले है, वे इस जिले से नहीं है और अपने मुख्यमंत्रित्तव काल में डनहोंने हमीरपुर की तरफ मुडक़र एक दिन भी नहीं देखा। उन्हें हमीरपुर से कोई लगाव नहीं है। उन्होंने ही पूर्व मुख्यमंत्री के समय हमीरपुर बस अड्डे की रखी गई आधारशिला के बाद एक ईंच कार्य नहीं करवाया। हमीरपुर जिला से मुख्यमंत्री बनते ही सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने इस कार्य के लिए 60 करोड़ के बजट का प्रावधान करवाकर कार्य को तेज गति से चलाया है। जनता के वोटों को बेचने वाले अब जनता के बीच इस बात को कैसे नकार सकते है। उन्होंने कहा कि वे स्थानीय जनता से वायदा करते है कि हमीरपुर के विकास को हर संभव आगे बढ़ाया जाएगा। यहां धनबल से नहीं अपितु जनबल से हमीरपुर के विकास को आगे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा कह रही है कि इस उपचुनाव के लिए कांग्रेस दोषी है, भाजपाई बताऐं कि क्या कांग्रेस ने अपने विधायकों को बेचा या फिर कांग्रेस ने निर्दलीय विधायकों को अपने पद से त्यागपत्र देने को कहा। ये केवल सत्ता के प्रति लालसा का ही नतीजा है। उन्होंने कहा कि जिस जनता ने अपना बहुमुल्य वोट देकर विधानसभा भेजा  उसी जनता के वोट को बेच डाला गया। ऐसे विधायक जनता के दुख दर्द को क्या समझ सकते है, जो केवल अपने स्वार्थ के लिए राजनीति करते रहे है। इस अवसर पर कांग्रेस पदाधिकारी एवं पंचायत प्रतिनिधियों सहित अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।