स्कुल के ऊपर गिरा पहाड़ , भारी नुक्सान।

गत रात्रि राजकीय केंद्रीय प्राथमिक पाठशाला चोलथरा के ऊपर लहासा गिरने से नए भवन को भारी नुकसान हुआ है। पिछले हिस्से का मलवा सीधा कार्यालय में घुस गया। जिससे कार्यालय का सामान भी क्षतिग्रस्त हो गया। गनीमत रही कि यह सब रात्रि में हुआ जब यहां कोई नहीं था। इस भवन के पूर्ण क्षति ग्रस्त होने से अब बच्चों के वैठेने की वैकल्पिक व्यवस्था राजकीय वरिष्ठ मा पाठशाला चोलथरा में की गई है।
वहीं मुख्याध्यापिका शिला देवी व अभिभावकों तथा ग्राम पंचायत प्रधान मेहर चंद गारला ने सरकार से मांग की है कि जल्दी से जल्दी भवन का निर्माण करवाया जाए ताकि विद्यार्थियों को परेशान न होना पड़े।
इस हादसे से निर्माण प्रक्रिया पर भी प्रश्न उठते हैं। जहाँ एक तरफ निजी संस्थानों के लिए लोकनिर्माण बिभाग ने कड़े मापदंड निर्धारित कर रखे हैं वहीं सरकारी विद्यालय भवनों की दुर्गति हो रखी है। यह भवन भी बिना पिल्लर साधारण रूप से टांग दी है, बचाव होता भी तो कैसे हाल ही में बाहरी सज्जा पर लाखों रुपये खर्च कर दिये हैं।