कुनाह और पुंग खड्ड में जगह-जगह मिले यूरेनियम के अवशेष।

हिमाचल प्रदेश के जिला हमीरपुर मुख्यालय से करीब दस किलोमीटर की दूरी पर कुनाह और पुंग खड्ड में जगह-जगह यूरेनियम के अवशेष मिले हैं। खुदाई करने वाली आउटसोर्स कंपनी ने इसकी रिपोर्ट परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय के उच्च अधिकारियों को सौंप दी है। बता दें कि इससे पूर्व वर्ष 2013 में भी ग्राम पंचायत ख्याह के लंबेहड़ा गांव में खुदाई के दौरान यूरेनियम के अवशेष मिल चुके हैं।

दरअसल, कोरोना काल के बीच निदेशालय ने आउटसोर्स कंपनी से खुदाई का काम शुरू करवाया है। इसी दौरान ये अवशेष मिले हैं। बता दें कि कुनाह और पुंग खड्ड नाल्टी, नेरी और नारा गांवों से होकर गुजरती है। उल्लेखनीय है कि निदेशालय पहले सर्वे कर चुका है। इस सर्वे में प्रदेश के 11 विभिन्न स्थानों पर यूरेनियम होने की पुष्टि हुई है। स्टेट ज्योलॉजिस्ट पुनीत गुलेरिया ने कहा कि यूरेनियम के स्रोत पूरे हिमाचल प्रदेश में जगह-जगह मिल रहे हैं। लेकिन ये इतनी मात्रा में नहीं होते हैं कि व्यापारिक प्रयोग में लाए जा सकें। आर्थिक रूप से भी इसका अधिक महत्व नहीं होता है।

जिला ऊना, शिमला के रामपुर, मंडी और कुल्लू की पहाड़ियों पर भी यूरेनियम पाए जाने की पुष्टि हो चुकी है। वहीं, आंध्र प्रदेश, झारखंड और मेघालय समेत देश के 11 राज्यों में से हिमाचल भी शामिल है, जहां यूरेनियम के भंडार मिल चुके हैं। लेकिन इन जगहों को अभी तक सूचीबद्ध नहीं किया गया है।