कांग्रेस पार्टी द्वारा भविष्य के भारत को लेकर बनाये गए इसके घोषणा/ योजना पत्र को झूठे वादे कहने पर कांग्रेस प्रवक्ता प्रेम कौशल ने कहा कि भाजपा और इसके नेतायों को झूठ बोलने का अंतरराष्ट्रीय अवार्ड मिलना चाहिए।

उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी ने तीन अलग चुनाबों में भरे नामांकन में अपनी अलग अलग शिक्षा दिखाई,हमीरपुर के सासंद अनुराग ठाकुर सर्बोच्च अदालत में झूठ पकड़े जाने पर माफीनामा दाखिल कर चुके हैं तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की शिक्षा को लेकर भी प्रश्नचिन्ह है।

प्रेम कौशल ने कहा कि हैरानी तब होती है जब जिनका झूठ ऑन रिकॉर्ड सबके समक्ष हो और वह दूसरों पर झूठ बोलने का आरोप लगाएं।राफेल मामले में अदालत में झूठ बोला मगर पकड़े गए।

और जब राहुल गांधी ने अदालत के फैसले के उपरांत भ्र्ष्टाचार उजागर होने की बात की तो दबाब बनाने के लिए भाजपा नेत्री से मानहानि का केस करबा दिया,परन्तु कांग्रेस न मुकदमों से डरने बाली है और न ही नरेन्द्र मोदी की कठपुतली बने सीबीआई, ईडी तथा इन्कम टेक्स जैसी संस्थाओं से।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here