बिना कनेक्शन के ही थमा दिये पानी के बिल,जलजीवन मिशन में जनता से उगाही शुरू

 

धर्मपुर में अरबों रुपये ख़र्च होने के बाद भी हर घर को नहीं मिला नल से जल—-

टिहरा (मण्डी) —

जलजीवन मिशन के तहत हर घर को नल से जल देने के लिए कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया है।लेकिन धर्मपुर मण्डल के चोलगढ़ सेक्शन की ग्राम पंचायत भदेहड़ में विभाग ने बिना कनेक्शन दिये ही उपभोक्ताओं को 275 रु बिल थमा दिये हैं।हिमाचल किसान सभा पँचायत कमेटी के अध्यक्ष भाग सिंह लखरवाल,सचिव प्रकाश सकलानी,लुददर सिंह,कशमीर सिंह, तारा चन्द, कुलदीप सिंह, भाग सिंह, राकेश कुमार, पवन कुमार व पँचायत निवासी कर्ण सिंह, विजय कुमार, जगदीश,मधु लखरवाल, बिहारी लाल, दिनेश कुमार, अरुण कुमार, विकास कुमार, जगदीश चंद्र, अक्षय कुमार, विजय कुमार और सुरेश कुमार इत्यादि ने बिना कनेक्शन के बिल देने का कड़ा विरोध किया है । और मांग की है कि जब तक उन्हें कनेक्शन नहीं दिये जाते हैं तब तक उनके बिल माफ़ कियेष जायें। उन्होंने बताया कि नई पाईप लाईने डालने का ठेका कंपनी को दिया गया था लेकिन कंपनी ने अधिकांश गाँवों में आधी अधूरी पाइपें डाल दी हैं । और आगे घरों को कनकेशन नहीं दिये हैं। और अब जलशक्ति विभाग ने सभी उपभोक्ताओं को बिल देना शुरू कर दिये हैं,जो सही नहीं है।उन्होंने बताया कि बलेहड़ गांव में टेक् से जो सप्लाई लाईन डाली गई है उसमें कहीं पर भीय कनेक्शन देने के लिए टी नहीं डाली गई है।उन्होंने बताया कि धर्मपुर मण्डल जलजीवन मिशन परियोजना के प्रथम चरण में शामिल किया गया था और यहां पर बेहिसाब पाइपें तो बिछा दी गई है लेकिन पानी की सप्लाई पहले की ही तरह मिल रही है ,और गर्मी का सीज़न शुरू होते ही पानी की कमी शुरू हो गयी है।उधर जकशक्ति मंत्री पिछले चार साल से ये प्रचारित कर रहे थे कि वे धर्मपुर में सभी घरों को निशुल्क पानी उपलब्ध करवा रहे हैं। लेकिन अब सभी को भारी भरकम बिल थमा दिए गए हैं । और बहुत से घरों को तो पहले से ही पानी उपलब्ध हो रहा था और अब उन्हें भी बिल दिये जा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि यहां पर जो अरबों रुपये इस मिशन के तहत ख़र्च हुआ है उसमें बड़े पैमाने पर कमीशन ली गई है जिसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिये। इधर विभाग के सहायक अभियंता संधोल महेश ने कहा कि विल का आवंटन कलैरिकल मिस्टेक के कारण हुआ है जिसे समायोजित कर लिया जाएगा।