बर्फबारी के कारण छह जनवरी से बंद हुई अटल टनल आज रविवार को पर्यटकों के लिए खोल दी गई। कुल्लू जिला प्रशासन ने सभी पर्यटकों को अटल टनल के दीदार करने की अनुमति दे दी है। तीन अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महत्वपूर्ण अटल टनल रोहतांग देश को समर्पित की थी। तब से यह टनल सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। अटल टनल के कारण ही दिसंबर और जनवरी में रिकॉर्ड पर्यटकों ने मनाली दस्तक दी।

पर्यटन स्थल सोलंगनाला में बर्फ पिघल गई थी, जिस कारण पर्यटक बर्फ के दीदार से वंचित हो रहे थे। पर्यटन से जुड़े कारोबारी प्रशासन से अटल टनल की बहाली की मांग कर रहे थे। पर्यटकों सहित पर्यटन कारोबारियों की समस्या को देखते हुए कुल्लू प्रशासन ने अटल टनल पर्यटकों के लिए बहाल कर दी। लाहौल स्पीति प्रशासन ने अभी हालात सामान्य न होने की बात कर पर्यटकों को लाहौल घाटी बहाल नहीं की है, लेकिन पर्यटकों को लाहौल के पर्यटन स्थल सिस्सु तक जाने की अनुमति मिल गई है।

रविवार सुबह से ही अटल टनल के नार्थ पोर्टल और सिस्सु में पर्यटकों ने दस्तक देना शुरू कर दी है। पर्यटन स्थल में पर्यटकों का मेला लग गया है। पर्यटक अटल टनल के दीदार कर शीत मरुस्थल लाहौल घाटी में घूमने का आनंद उठा रहे हैं। हालांकि, लाहौल घाटी में 25 जनवरी से स्नो फेस्टिवल की धूम मची हुई है। लेकिन, हालात सामान्य न होने का कारण पर्यटक स्नो फेस्टिवल का हिस्सा नहीं बन पाए हैं।

गुलाबा भी पर्यटकों के लिए बहाल
बर्फबारी के कारण दिसंबर महीने से रोहतांग के सभी पर्यटन स्थल सैलानियों के लिए बंद हैं। प्रशासन ने आज मशहूर पर्यटन स्थल गुलाबा भी पर्यटकों के लिए बहाल कर दिया है। अब सैलानी गुलाबा पर्यटन स्थल में बर्फ के दीदार कर सकेंगे। हालांकि, अटल टनल बनने का बाद पर्यटक रोहतांग दर्रे को भूल गए हैं, लेकिन गर्मियों में बर्फ के दीदार को पर्यटक रोहतांग का ही रुख करेंगे।

सड़क पर जमी बर्फ, प्रशासन ने किया आगाह
SDM मनाली रमन घरसंगी ने कहा कि रविवार से अटल टनल सभी पर्यटकों के लिए बहाल कर दी है। अटल टनल पर पर्यटकों की आवाजाही मौसम की परिस्थितियों पर निर्भर रहेगी। पर्यटन स्थल गुलाबा भी पर्यटकों के लिए बहाल कर दिया है। गुलाबा के पास सड़क पर बर्फ जमने से सफर अभी जोखिम भरा है। BRO उस स्थान पर बर्फ हटा रहा है। पर्यटकों व वाहन चालकों से आग्रह है कि वो सावधानी पूर्वक वाहन चलाएं।