अबदेश भारद्वाज –आज के दौर में पूरा विश्व व हमारी मान्यवर भारत सरकार भी सड़क सुरक्षा के लिए व सड़क सुरक्षा में दुर्घटना घटाने के लिए इतनी संवेदनशील हो गई है कि समय-समय पर माननीय पुलिस प्रशासन को दिशा निर्देश दिए जाते हैं वह पुलिस प्रशासन भी पूरी मेहनत व ईमानदारी से उन निर्देशों का पालन करते हैं व नुक्कड़ सभाएं करके प्रोग्राम करके लोगों को समझाया जाता है कि वह अपनी स्पीड पर कंट्रोल रखें शराब चलाकर गाड़ी ना चलाएं गाड़ी सही स्थान पर खड़ी करें

वह अपने गाड़ी के कल पुर्जों से लेकर उसके सामने वाले शीशे इत्यादि सब कुछ सही रखें ताकि किसी भी घटना को निमंत्रण ना मिले परंतु फिर भी आज के दौर में वाहनों की आवाज गई इतनी हो गई है कि ऐसे मामले सामने आते हैं जिस से रूह तक इंसान की कांप जाती है मंडी पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्कूटी पर सवार होकर जा रहे दो ब्यक्ति एक हादसे का शिकार हो गए। टक्कर इतनी

जबरदस्त थी कि ट्रक ने उन्हें पूरी तरह पूरी तरह से रौंद दिया तथा स्कूटी सवारों की मौत मौके पर ही हो गई तथा पुलिस भी जानकारी मिलते .ही तुरंत मौके पर पहुंच गई तथा पुलिस भी हादसे की जांच में जुट गई है मृतक की पहचान 62 वर्षीय बुजुर्ग होशियार सिंह के रूप में हुई है। आज के दौर में पूरा विश्व व हमारी मान्यवर भारत सरकार भी सड़क सुरक्षा के लिए व सड़क सुरक्षा में दुर्घटना घटाने के लिए इतनी संवेदनशील हो गई है कि समय-समय पर माननीय पुलिस प्रशासन को

दिशा निर्देश दिए जाते हैं वह पुलिस प्रशासन भी पूरी मेहनत व ईमानदारी से उन निर्देशों का पालन करते हैं व नुक्कड़ सभाएं करके प्रोग्राम करके लोगों को समझाया जाता है कि वह अपनी स्पीड पर कंट्रोल रखें शराब चलाकर गाड़ी ना चलाएं गाड़ी सही स्थान पर खड़ी करें वह अपने गाड़ी के कल पुर्जों से लेकर उसके सामने वाले शीशे इत्यादि सब कुछ सही रखें ताकि किसी भी घटना को निमंत्रण

ना मिले परंतु फिर भी आज के दौर में वाहनों की आवाज गई इतनी हो गई है कि ऐसे मामले सामने आते हैं जिस से रूह तक इंसान की कांप जाती है मंडी पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्कूटी पर सवार होकर जा रहे आदमी की एक हादसे का शिकार हो गया और टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ट्रक ने उसे पूरी

तरह पूरी तरह से रौंद दिया तथा स्कूटी सवार की मौत मौके पर ही हो गई तथा पुलिस भी जानकारी मिलते .ही तुरंत मौके पर पहुंच गई तथा पुलिस भी हादसे की जांच में जुट गई है एक मृतक की पहचान 62 वर्षीय बुजुर्ग होशियार सिंह के रूप में हुई है।

Leave a Reply