अंब रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण पर 10 करोड़ रुपए होंगे व्यय, हिमाचल को उदार वित्तीय सहायता प्रदान कर रही केंद्र सरकार

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने ग्राम पंचायत मोरसू में एक हजार लाभार्थियों को बांटे इंडक्शन हीटर, लैंप व साईकिलें

हमीरपुर, 14 फरवरी। केंद्रीय वित्त एवं कार्पोरेट मामले राज्यमंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने आज बड़सर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत मोरसू में भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा आयोजित सामग्री वितरण समारोह में लगभग एक हजार पात्र लाभार्थियों को इंडक्शन हीटर, लैम्प एवं साईकिलें वितरित कीं।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार सबका साथ सबका विकास व सबका विश्वास की भावना से समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। मनरेगा व अन्य निर्माण कार्यों में लगे श्रमिक वर्ग देश को आगे बढ़ाने में अपना श्रम व समय अर्पित कर रहे हैं और क्षेत्र के विकास में भी इनका अमूल्य योगदान रहता है। ऐसे श्रमिकों को बोर्ड की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से समय-समय पर विभिन्न सामग्री वितरित की जाती है ताकि उनका जीवन और सुलभ हो सके। उन्होंने कहा कि आज इस मंच से लगभग 350 इंडक्शन हीटर, 350 लैंप तथा 300 साइकिलें वितरित की गयी। उन्होंने इसके लिए राज्य सरकार व श्रम विभाग का भी आभार जताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के कामगारों के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना प्रारम्भ की गयी है।

केंद्रीय बजट में प्रत्येक वर्ग को राहत का प्रयास

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने दूसरे कार्यकाल के अपने पहले बजट में सभी वर्गों को राहत देने का प्रयास किया है और कई नई योजनाएं भी प्रारंभ की जा रही हैं। व्यक्तिगत आयकर दाताओं के कर स्लैब में बदलाव कर इसे आसान व अधिक प्रभावी बनाया गया है और कार्पोरेट तथा मझोले व छोटे उद्यमियों को भी कर में समुचित राहत दी गयी है। देश में अन्न उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए धन लक्ष्मी से धान्य लक्ष्मी योजना प्रारंभ की जा रही है। हर घर में नल, नल से स्वच्छ जल योजना के अंतर्गत प्रत्येक देशवासी को घर में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

हिमाचल को उदार सहायता प्रदान कर रही केंद्र सरकार

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को केंद्र की ओर से समुचित वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाई जा रही है। 15वें वित्तायोग की सिफारिशों के अनुसार केंद्र से 11,412 करोड़ रुपए के अतिरिक्त लाभ दिए जाएंगे जोकि पड़ोसी राज्यों पंजाब व उत्तराखंड से अधिक हैं। आपदा प्रबंधन में हिमाचल को लगभग 450 करोड़ रुपए तथा शहरी निकायों के अंतर्गत शहरों के विकास के लिए 270 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि का प्रावधान किया गया है। पंचायतीराज संस्थाओं को सुदृढ़ करने के दृष्टिगत ग्राम पंचायतों के साथ ही अब पुनः पंचायत समितियों व जिला परिषद सदस्यों को विकास राशि आवंटित करने का निर्णय लिया गया है। किसानों की आय दोगुना करने के लिए 16 सूत्री कार्यक्रम घोषित किया गया है। इसमें लघु सिंचाई, जैविक खेती, उपकरणों सहित अन्य सुविधाएं उन्हें मुहैया करवाने का लक्ष्य रखा गया है।

रेल लाईनों के विस्तार को समुचित राशि का प्रावधान

श्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में रेल लाईनों के विस्तार के लिए केंद्र सरकार द्वारा समुचित धनराशि का प्रावधान किया जा रहा है। भानुपल्ली-बिलासपुर रेल लाईन के निर्माण पर इस वित्त वर्ष में लगभग 420 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है जबकि गत वर्ष इस पर लगभग 380 करोड़ रुपए व्यय किए गए। इसमें 25 प्रतिशत व्यय राज्य सरकार की ओर से वहन किया जा रहा है। उन्होंने आश्वस्त किया कि ऊना-हमीरपुर रेल लाईन के निर्माण के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर इस रेलवे लाईन के लिए 25 प्रतिशत राशि वहन करने का आग्रह किया जाएगा। इस रेल लाईन का लाभ हमीरपुर के अतिरिक्त बिलासपुर, ऊना, कांगड़ा व मंडी जिला के सीमावर्ती क्षेत्र के लोगों को भी मिलेगा।

ऊना-तलावाड़ा रेल लाईन पर इस वर्ष 50 करोड़ रुपए होंगे व्यय

उन्होंने कहा कि ऊना-तलवाड़ा रेल लाईन के हिमाचल के लगभग 7 कि.मी. लंबे भाग के लिए गत वर्ष भूमि अधिग्रहित कर ली गयी है और इस पर अभी तक 58 करोड़ रुपए व्यय किए गए हैं। इसके लिए लगभग 100 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि का प्रावधान किया जा रहा है जिसमें से 50 करोड़ रुपए इस वर्ष के लिए स्वीकृत करवाए गए हैं। इससे ऊना रेल लाईन का कार्य पूर्ण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि अंब-इंदौरा रेलवे स्टेशन को और बेहतर करने तथा वहां यात्रियों को सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए 10 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज हमीरपुर, राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी केंद्र व अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालय (एम्ज) बिलासपुर के लिए भी केंद्र की ओर से उदार वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाई जा रही है।

मोरसू मैदान में विकसित होगा खेल ढांचा

उन्होंने स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों की मांग पर मोरसू स्थित लगभग 45 कनाल के मौदान में सभी प्रकार की खेल सुविधाएं उपलब्ध करवाने व खेंल ढांचा विकसित करने का आश्वासन दिया। इसके लिए संबंधित विभागों को प्राक्कलन इत्यादि तैयार करने के मौके पर ही निर्देश दिए। स्थानीय लोगों का लोकसभा चुनाव में उन्हें रिकॉर्ड बढ़त देने के लिए आभार भी जताया। उन्होंने मौके पर ही जनसमस्याओं का निराकरण भी किया। इससे पूर्व उन्होंने समीरपुर में भी जन समस्याएं सुनीं।

पूर्व विधायक ने गिनवाई सरकार की उपलब्धियां, शहीदों के सम्मान में मौन

पूर्व विधायक एवं भाजपा जिलाध्यक्ष श्री बलदेव शर्मा ने कहा कि क्षेत्र के मनरेगा मजदूरों को विभिन्न लाभ केंद्र व राज्य सरकार के सहयोग से प्रदान किए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त लगभग 4700 परिवारों को गृहिणी सुविधा योजना के अंतर्गत निःशुल्क रसोई गैस कुनेक्शन वितरित किए गए। 310 से अधिक सौर ऊर्जा लाईटें भी उपलब्ध करवाई गई। सांसद खेल महाकुंभ, सांसद मोबाईल स्वास्थ्य सेवा व भारत दर्शन जैसे अभिनव कार्यक्रमों का भी समुचित लाभ क्षेत्र की जनता को प्राप्त हो रहा है। उन्होंने पुलवामा हमले की प्रथम बरसी पर शहीदों की याद में दो मिनट का मौन भी रखा और युवा पीढ़ी से नशे से दूर रहने व देश सेवा के लिए समर्पित रहने का आह्वान भी किया।

महिला मंडलों ने किया सम्मान

कार्यवाहक श्रम अधिकारी श्री प्यारे लाल ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया जबकि भारतीय मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष श्री तिलकराज शर्मा ने भी अपने विचार रखे। स्थानीय भाजपा मंडल तथा महिला मंडल सिद्धपुर, मौरसू पट्टी व मोरसू झीरां की ओर से मुख्य अतिथि को सम्मानित किया गया।

यह रहे उपस्थित

इस अवसर पर एपीएमसी के अध्यक्ष श्री अजय शर्मा, जिला परिषद सदस्य श्रीमती अंजू धीमान, पंचायत समिति सदस्य श्री प्रीतम चंद, मंडल अध्यक्ष श्री कुलदीप ठाकुर, महामंत्री श्री चतर सिंह व जसवीर पटयाल, श्री हरीश शर्मा, जिला उपाध्यक्ष श्री सुभाष बनयाल, जिला प्रवक्ता श्री आदर्शकांत, स्थानीय ग्राम पंचायत के प्रधान राजेश कुमार व उपप्रधान हक्कू राम, उपायुक्त श्री हरिकेश मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विजय सकलानी, उपमंडलाधिकारी (ना.) श्री प्रदीप कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

Leave a Reply