प्रदेश में बढ़ते कोरोना (Corona Virus) संकट के बीच सीएम जयराम ठाकुर ने मंगलवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. शिमला के पीटरहॉफ होटल में शाम को पांच बजे यह बैठक होगी. बैठक में प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए लॉकडाउन (Lockdown) लगाने पर फैसला लिया जा सकता है. दरअसल, लॉकडाउन लगाने से पहले प्रदेश सरकार विपक्षी दलों की राय लेना चाहती है. वहीं, बुधवार को कैबिनेट की बैठक में भी होनी है. ऐसे में कोरोना को लेकर कई बड़े फैसले होने की उम्मीद है।

दरअसल, हिमाचल के पड़ोसी राज्य पंजाब और हरियाणा सहित दिल्ली में मौजूदा समय में ल़ॉकडाउन लगा है. ऐसे में कहीं ना कहीं हिमाचल सरकार पर भी लॉक़डाउन लगाने का दबाव है. कांगड़ा जिले में तो हालात बेकाबू हो गए हैं और भाजपा के सीनियर नेता शांता कुमार ने भी लॉक़डाउन लगाने की अपनी की है. वहीं, सर्वदलीय बैठक में शिमला में नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, माकपा विधायक राकेश सिंघा भी शामिल होंगे. वहीं, सीएम जयराम ठाकुर पालमपुर से ऑनलाइन मीटिंग में शामिल होंगे।

उधर मीटिंग के बीच कांग्रेस ने प्रदेश में लॉकडाउन की मांग की है. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि हमारा पक्ष साफ है और लॉकडाउन के अलावा कोई चारा नहीं है।स्कूल शिक्षा बोर्ड की 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों को बिना वार्षिक परीक्षाओं के अगली कक्षा में प्रमोट करने का फैसला भी कैबिनेट बैठक में लिया जाएगा. शिक्षण संस्थानों को 10 मई के बाद भी बंद रखने पर कैबिनेट बैठक में फैसला होने की उम्मीद है।

हिमाचल प्रदेश में आए दिन कोरोना संक्रमितों की मौतों और नए मामलों के रिकॉर्ड टूट रहे हैं. सोमवार को एक दिन में रिकॉर्ड 43 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई थी. कांगड़ा जिले में स्थिति सबसे खराब है. यहां कोरोना के सक्रिय केस कांगड़ा 5384 के पार पहुंच चुके हैं. प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 107121 के पार पहुंच गया है. इनमें से अब तक 80679 से अधिक संक्रमित ठीक हो चुके हैं. सक्रिय कोरोना मामले अब करीब 21788 हैं और 1599 संक्रमितों की मौत हुई है।