पंजाब में ठंड और कोहरे की दोहरी मार, पड़ोसी राज्यों में भी राहत नहीं

उत्तर भारत में इस समय सर्दी का मौसम अपने चरम पर है। हाड़ कंपा देने वाली ठंड ने इंसानों और जानवरों के अलावा पक्षियों के जीवन पर भी असर डाला है। पंजाब के कई जिलों में कोहरे और तेज हवाओं ने ठंड बढ़ा दी है। कोहरे के कारण येलो अलर्ट भी जारी किया गया है। मौसम विभाग की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पंजाब में ठंड ने पिछले 11 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

ताजा आंकड़ों के मुताबिक पंजाब में दिन का तापमान 8-10 डिग्री से नीचे पहुंच गया है, जबकि पिछले सालों में दिन का तापमान हमेशा 10 डिग्री से ऊपर रहता था। पंजाब के 16 जिलों में मौसम ज्यादा खराब रहेगा. इनमें पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, तरनतारन, होशियारपुर, जालंधर, नवांशहर, कपूरथला, फाजिल्का, मुक्तसर, बठिंडा, लुधियाना, मनसा, फतेहगढ़ साहिब, रूपनगर और पटियाला में बहुत घने कोहरे की चेतावनी दी गई है। आज दृश्यता 50 मीटर के आसपास रहने की उम्मीद है. पंजाब में अगले दो दिनों में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है।

इसके अलावा दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ में भी कुछ ऐसा ही असर देखने को मिल रहा है। पंजाब ही नहीं पड़ोसी राज्य भी ठंड से बुरी तरह प्रभावित हैं। इन इलाकों में लोग पिछले एक सप्ताह से सूरज की झलक पाने के लिए तरस रहे हैं। घने कोहरे और हाड़ कंपा देने वाली ठंड से बचने के लिए लोगों को सड़क किनारे आग सेंकते हुए देखना आम बात है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और हिमाचल को ठंड से राहत नहीं मिल रही है। पश्चिमी विक्षोभ कम होने के बाद अब शुष्क ठंड लोगों को परेशान करेगी।