बाबा बालक नाथ की पवित्र भूमि को बनाएंगे भव्य: इंद्र दत्त लखनपाल।

विधायक ने बाबा बालक नाथ वरिष्ठ माध्यमिक एवं मॉडल हाई स्कूल के विद्यार्थियों बांटे पुरस्कार

बड़सर 05 जनवरी। विधायक इंद्र दत्त लखनपाल ने कहा है कि बाबा बालक नाथ मंदिर और इसके आस-पास के स्थलों के सौंदर्यीकरण के साथ-साथ यहां सभी मूलभूत सुविधाओं का विस्तार करके इस पवित्र भूमि को भव्य रूप प्रदान किया जाएगा। इसके लिए एडीबी की मदद से लगभग 65 करोड़ रुपये की एक वृहद परियोजना पर कार्य किया जा रहा है। शुक्रवार को बाबा बालक नाथ वरिष्ठ माध्यमिक एवं मॉडल हाई स्कूल के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए इंद्र दत्त लखनपाल ने यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में हाल ही में किए गए जीर्णोद्धार कार्य से श्रद्धालुआंे के लिए बाबा की पवित्र गुफा के दर्शन सुलभ हुए हैं। आने वाले समय में महिलाओं के लिए दर्शन सुलभ बनाने के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी। मंदिर के लिए रज्जू मार्ग और कई अन्य बड़ी योजनाओं पर भी कार्य किया जाएगा। इंद्र दत्त लखनपाल ने कहा कि बाबा बालक नाथ कालेज और अन्य संस्थानों के लिए क्षेत्रवासियों ने अपनी बहुमूल्य भूमि दान करके एक अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है। इस अवसर पर विधायक ने शैक्षणिक, खेलकूद, सांस्कृतिक और अन्य गतिविधियों में सराहनीय प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया।
इससे पहले प्रधानाचार्य संजीव सोहारू ने विधायक, अन्य अतिथियों तथा बच्चों के अभिभावकों का स्वागत किया और स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। विद्यार्थियों ने भी सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। स्कूल के एनएसएस वालंटियर्स ने आपदा राहत कोष के लिए एकत्रित 11 हजार रुपये की राशि विधायक को सौंपी। गांव चकमोह के लेख राम धीरू ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए विधायक इंद्र दत्त लखनपाल को 5700 रुपये की राशि का चेक सौंपा।
समारोह में उषा लखनपाल, एसडीएम डॉ. रोहित शर्मा, तहसीलदार धर्मपाल, चकमोह पंचायत की प्रधान किरण शर्मा, कलवाल की प्रधान रीना देवी और उपप्रधान हरिकृष्ण, ग्यारहग्रां के प्रधान किशोरी लाल, पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष अमींचंद, पूर्व बीडीसी अध्यक्ष निक्का राम, पूर्व बीडीसी सदस्य आशा देवी, एसएमसी के पदाधिकारी राजीव कुमार और रोशन लाल, कैप्टन सुरेंद्र सोनी, बाबा बालक नाथ मंदिर न्यास के न्यासी धनीराम संगर, पुरुषोत्तम चंद और समर सेन, कांग्रेस नेता कृष्ण चंद, मुख्यध्यापक राजेंद्र सिंह और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।