हमीरपुर की जनता मांगे जबाब , आखिर कहाँ गयी ऊना- हमीरपुर रेल लाइन ?

हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र से पिछली चार बार से लगातार सांसद व् केंद्रीय मंत्री हर बार के चुनावों में हमीरपुर की जनता को ऊना – हमीरपुर रेल लाइन का आश्वासन देते रहे हैं। पिछले चुनाबों में तो मंत्री साहब ने अपने एक साक्षत्कार में यह तक कह दिया कि फाइनल सर्वे हो गया है ,डीपीआर रेल मंत्रालय को सौप दी गयी है , यही नहीं मंत्री जी ने यह भी कहा कि 51 किलोमीटर की रेलवे लाइन बनेगी ,और 6000 करोड़ का बजट बन गया ,और 6 रेलवे स्टेशन बनेगे,साथ में मंत्री जी ने तीन टनल का भी हवाला दिया था। लेकिन यह हवाला मंत्री जी ने 2019 के लोकसभा चुनावों में दिया था। उसके बाद रेल लाइन बननी तो छोड़िये ,उसकी चर्चा तक बंद हो गई। आपको बता दें कि कुछ महीनों के बाद 2024 के लोकसभा चुनाब हैं ,लेकिन इस बार ऊना- हमीरपुर रेल लाइन पर मंत्री जी ने चुप्पी साध ली है। अब हमीरपुर की जनता इस चुप्पी का क्या मतलब समझे ,हर बार इसी तरह अपनी राजनैतिक रोटियां सेकने लिए जनता को बेवकूफ बनाया जाता है। हाल ही कई अखबारों में हमीरपुर रेल- लाइन का बजट सामने आया था जोकि 1000 रूपए मात्र था , अब सवाल है कि जब रेल मंत्रालय के पास 2022 में 1000 रूपए का बजट है तो मंत्री जी 2019 में किस 6 हजार करोड़ बात कर रहे थे।